जमशेदपुर, जेएनएन। झारखंड विकास मोर्चा JVM ने गुरुवार को टाटा मोटर्स के गेट पर मीटिंग की। इस दौरान टाटा मोटर्स के बाइसिक्स के हितों का मुद्दा उठाया गया। टाटा मोटर्स में बाइसिक्स काफी संख्या में हैं। इनकी दुखती रग पर हाथ रखकर फायदा झामिवो उठाना चाहती है। बाइसिक्स वोटर के रूप में जमशेदपुर पूर्वी यानी मुख्यमंत्री के चुनाव क्षेत्र में निर्णायक भूमिका निभाते हैं। झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पहले ही यहां से सदस्यता अभियान की शुरुआत कर चुके हैं। 

गेट मीटिंग के दौरान जमशेदपुर पूर्वी से विधानभा चुनाव में प्रत्याशी रहे झाविमो के केंद्रीय महासचिव अभय सिंह ने बाइसिक्स के स्थायीकरण में पक्षपात का आरोप लगाते हुए सीधे तौर पर भाजपा और मुख्यमंत्री का नाम भी लिया। कहा कि भाजपा और मुख्यमंत्री की शह पर नियमों की अनदेखी कर बाइ सिक्स को स्थायी किया गया। तमाम शर्तें पूरी करनेवाले देखते रह गए और शर्तों को पूरी नहीं करनेवाले स्थायी कर दिए गए। उन्होंने क्वार्टर खाली कराने का मुद् भी उठाया।

15 दिनों का अल्टीमेटम

गेट मीटिंग के दौरान झाविमो के नेताओं ने निलंबित कर्मचारियों की दुखती रग को भी दबाया। कहा कि यूनियन नेताओं के इशारे पर उन कर्मचारियों को निलंबित कराया जा रहा है जो जी-हजूरी नहीं करते हैं। इसके अलावा कामगारों के शोषण का मुद्दा भी उठाया गया और चेतावनी दी गई कि अगर पंद्रह दिनों के भीतर निलंबित कर्मचारियों का निलंबन वापस लेने के साथ अन्य उठाए गए मुद्दों पर प्रबंधन संजीदगी से कदम नहीं उठाएगा तो तालाबंदी की जाएगी। 

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप