मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जासं, जमशेदपुर : जुगसलाई रेलवे फाटक पर बन रहे रेल ओवरब्रिज (आरओबी) का निर्माण कई दिनों से रूका है। इसकी वजह पूरी तरह अतिक्रमण का नहीं हटना बताया जा रहा है। अब इसका निर्माण एक बार फिर शुरू होगा, जिसके लिए बलपूर्वक अतिक्रमण हटाया जाएगा। उपायुक्त कार्यालय में मंगलवार को आधारभूत संरचना निर्माण में आ रही विभागीय समस्याओं की समीक्षा बैठक में कहा गया कि जुगसलाई रेल ओवरब्रिज निर्माण के लिए पूर्व में ही टाटा द्वारा एनओसी दिया गया है। उपायुक्त ने कहा कि एक महीने के भीतर वहां रह रहे लोगों से हटने को कहा जाए, वरना बलपूर्वक हटाया जाए। रेलवे पदाधिकारी ने बताया कि चौथी लाइन के लिए 340 अतिक्रमण चिह्नित किए गए हैं, जिसमें 200 को नोटिस भी दिया गया है।

वहीं उपायुक्त ने गोविंदपुर में एलिवेटेड कोरीडोर निर्माण के संबंध में आ रही बाधाओं को चिह्नित करते हुए विद्युत विभाग व पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को स्थल निरीक्षण कर प्रतिवेदन देने को कहा। बैठक में पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) पीयूष पांडेय, एसडीओ धालभूम चंदन कुमार, अपर उपायुक्त सौरव कुमार सिन्हा, जिला परिवहन पदाधिकारी दिनेश रंजन के अलावा विद्युत, पेयजल व पथ निर्माण के कार्यपालक अभियंता भी उपस्थित थे।

--------

जलापूर्ति योजना को रेलवे से मिली एनओसी

समीक्षा बैठक में उपायुक्त ने बताया कि छोटा गोविंदपुर व बागबेड़ा जलापूर्ति योजना के लिए रेलवे से एनओसी प्राप्त हो गया है। उन्होंने कार्यपालक अभियंता, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग को कार्य शुरू करने का निर्देश दिया। शहर में बिछाई जा रही एलपीजी (गैस) पाइपलाइन के लिए गेल (गैस अथारिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड) को तीन डिमांड नोट दिया गया है। टाटा से दो स्थलों के लिए एनओसी प्राप्त कर कार्य शुरू करने का निर्देश दिया गया।

---------

जुस्को पकड़े आवारा पशु

उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित जुस्को के प्रतिनिधि को निर्देश दिया कि आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए मुहिम चलाएं। सड़क पर जहां पानी जमा होने की शिकायत प्राप्त हो रही है, वहां सड़क से पानी हटाना सुनिश्चित करें। साफ-सफाई के लिए रात्रिकालीन सफाई (नाइट स्वीपिंग) की जाए। जुस्को से कई जगह पेयजल आपूर्ति में ओवरफ्लो की मिल रही शिकायत से अवगत कराते हुए इसे ठीक करने को कहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप