जागरण संवाददाता, चाईबासा : झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने बुधवार को चाईबासा स्थित एमपी एमएलए न्यायालय में विधायक सरयू राय पर दर्ज कराये गये मानहानि शिकायतवाद पर अपना बयान दर्ज कराया। उन्होंने बताया कोरोना प्रोत्साहन राशि मद से किसी भी व्यक्ति को भी 1 रुपये का भुगतान नहीं किया गया है। विधायक सरयू राय इस मामले पर समाचार पत्रों के माध्यम से लगातार कई तरह के आरोप लगाते रहे हैं जिसमें कई तरह का विरोधाभास है। उन्होंने कहा सरयू राय को 2009 में मैंने शिकस्त दी थी। उनसे मेरी राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता है। इस कारण वो मुझे टारगेट कर मेरे बारे में भ्रामक और मनगढ़ंत प्रचार करते रहते हैं। वो मेरी सामाजिक व राजनीतिक छवि धूमिल करने के लिए इस तरह का षड्यंत्र करते रहे हैं। 14 फरवरी 2022 से लगातार मेरा दुष्प्रचार कर रहे हैं। बता दें कि झारखंड सरकार के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मामले में जमशेदपुर स्थित मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में विधायक सरयू राय पर मानहानि की शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले की सुनवाई के लिए चाईबासा स्थित एमपी-एमएलए न्यायालय में न्यायिक दंडाधिकारी ऋषि कुमार के समक्ष मंत्री ने उपस्थित होकर अपना बयान दर्ज कराया।

Edited By: Jitendra Singh