जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। सुरक्षा नियमों को ताक पर रखकर वाहन चलानेवालों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पुलिस की नजरों से बचकर घर पहुंच जाने के बाद भी उनतक चालान पहुंच रहा है। ऐसा हो रहा है तीसरी आंख की निगहबानी की वजह से। अबतक 228 लोगों को सीसीटीवी कैमरे ने कैद किया है। 

पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त अमित कुमार ने विगत 27 दिसंबर को विधि व्यवस्था की बैठक में इस बाबत निर्देश दिए थे। निर्देश के आलोक में जमशेदपुर में विभिन्न स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से हेलमेट चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। 29 दिसंबर 2018 से तीन जनवरी 2019 तक कुल 218 लोगों को नोटिस निर्गत किया गया।

इन जगहों पर बिना हेलमेट कैमरे में हुए कैद

29 दिसंबर को करीम सिटी कॉलेज के निकट लगे कैमरे के माध्यम से 32 ऐसे दोपहिया वाहन चालकों को चिन्हित किया गया जो बिना हेलमेट के वाहन चला रहे थे। जबकि शीतला मंदिर के पास 34 लोगों को चिन्हित कर नोटिस किया गया। वहीं 30 दिसंबर को साकची गोलचक्कर के पास 16, कदमा बाजार के पास 16 लोगों को बगैर हेलमेट के वाहन चलाते हुए चिन्हित कर उन्हें नोटिस किया गया। वहीं 31 दिसंबर को बागे जमशेद गोलचक्कर के निकट 22, मानगो टीओपी के निकट 8 लोगों को चिन्हित कर नोटिस किया गया है। वहीं 3 जनवरी को ओल्ड कोर्ट के निकट लगे सीसीटीवी कैमरे से 60 एवं खरकाई ब्रिज के पास 30 लोगों को बिना हेलमेट के वाहन चलाते हुए सीसीटीवी के माध्यम से चिन्हित कर उन्हें नोटिस किया गया है।

10 में से 6 लोग ही पहनते हैं हेलमेट

जिला प्रशासन द्वारा हर प्रकार से लोगों को हेलमेट के लिए जागरूक करने का प्रयास किया गया, लेकिन वर्तमान में जमशेदपुर में 40 प्रतिशत लोग दुपहिया वाहन चलाते वक्त हेलमेट नहीं पहनते हैं। इसको देखते हुए उपायुक्त ने पिछले दिनों निर्देश दिया कि शहर में लगे उच्च क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे से हेलमेट चेकिंग चलाया जाए। इसके सकारात्मक परिणाम आएंगे।

जुगसलाई में ट्रैफिक पुलिस की कार्रवाई का विरोध

जुगसलाई में ट्रैफिक पुलिस द्वारा अभियान चलाया गया, जिसमें बेतरतीब खड़े वाहनों से जुर्माना काटा जा रहा था। इसका भाजपा के जिला महामंत्री व सिंहभूम चैंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री के सचिव अनिल मोदी ने विरोध किया। मोदी ने कहा कि जुगसलाई एक व्यावसायिक क्षेत्र है और मकर सक्रांति का समय होने के कारण क्षेत्र में व्यापारिक गतिविधियां चरम पर हैं।

सड़क सुरक्षा के लिए दौड़ 11 को

जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से आगामी 11 जनवरी को दौड़ का आयोजन जिला परिवहन विभाग द्वारा किया जाएगा।

 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rakesh Ranjan