जमशेदपुर : जमशेदपुर के बिरसानगर में पुलिस की वर्दी में दो अपराधियों ने घर में घुसने का प्रयास किया। घर मालिक की सजगता और समय पर बिरसानगर थाना को सूचना दिए जाने पर अपराधी भाग निकले। मामले में बिरसानगर थाना में शिकायत दर्ज कराई गई है जिसकी जांच पुलिस कर रही है।

सजगता से बची जान

घटना बिरसानगर जोन नंबर एक संडे मार्केट क्षेत्र निवासी हरदेव सिंह कक्के की घर की है। पुलिस को शिकायत में बताया 22 जून की रात करीब 10 बजे दो अपराधी उनके घर पर आए, जिसमें एक अपराधी पुलिस वर्दी में था। खुद को डीएसपी का अफसर बता रहा था जबकि दूसरा अपराधी जो सिविल में था। उसके हाथ में पिस्तौल लिए हुआ था। पिस्तौल को काक कर तैयार था। दोनों ने हेलमेट और मास्क लगा रखा था। घर के सामने आकर खड़े हो गए। गेट पर ताला लगा था। उसे दोनों बुला रहे थे। वर्दी वाला बाहर आने को कह रहा था। कहा कुछ बात करनी है तब हमने हेलमेट और मास्क हटाने का आग्रह किया, लेकिन दोनों ने ऐसा नहीं किया। मैंने कहा कि बिरसानगर थाना प्रभारी को सूचना देता हूं। अपराधियों ने कहा फोन क्यों कर रहे है। बाइक स्टार्ट थी। दोनों भाग निकले। बाइक के नंबर प्लेट भी मुड़े हुए थे। नंबर स्पष्ट नहीं दिख रहा था। बदमाशों की गतिविधि सीसीटीवी में कैद हो गई है। फुटेज पुलिस को उपलब्ध कराया गया है जिसमें एक व्यक्ति वर्दी पहना दिख रहा है। हरदेव सिंह ने कहा उसकी हत्या की नीयत से दोनों आए थे।

इधर, बिरसानगर थाना प्रभारी तरुण कुमार ने बताया कि हरदेव सिंह ठेकेदार सह ट्रांसपोर्टर भी है। एक पोकलेन को लेकर व्यवसायिक पार्टनर से विवाद चल रहा है। संभवत उसके द्वारा ही घटना को अंजाम दिलवाया गया है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची थी। मामले की जांच की जा रही है।

Edited By: Sanam Singh