जमशेदपुर, जासं। पटमदा के बोड़ाम थाना क्षेत्र के जोबा गांव में बारिश से बचने के लिए एक पेड़ के नीचे खड़े दो भाइयों की आकाशीय बिजली गिरने से गंभीर रूप से घायल हो गए। जान बचाने के लिए स्वजन भागते वहां पहुंचे। सूचना बोड़ाम थाना की पुलिस को दी। 108 एम्बुलेंस से दोनों युवकों को एमजीएम अस्पताल भेज दिया गया, लेकिन रास्ते में ही दोनों की मौत हो गई।

आकाशीय बिजली गिरने से दो भाइयों की मौत

मृतकों में दिघी गांव निवासी किसान बंकिम महतो का 21 वर्षीय पुत्र लक्ष्मीकांत महतो एवं उसके मौसेरा भाई बंगाल के गिदिघांटी निवासी 20 वर्षीय विधान महतो है। घटना सोमवार देर शाम की है। वहीं दूसरी ओर पटमदा के गाेबरघुंसी में वज्रपात के कारण शिव मंदिर में दरार पड़ गई। मंदिर के ध्वज को नुकसान पहुंचा। बंकिम महतो की जमीन जोबा गांव में है जिसमें सब्जियों की खेती की है। सोमवार की दोपहर के बाद उनका बेटा लक्ष्मीकांत व उनके साढू का बेटा विधान भिंडी की फसल में कीटनाशक का छिड़काव करने गया था। बारिश से बचने के लिए ही दोनों एक बरगद के पेड़ के नीचे खड़े थे जबकि बंकिम महतो अपने खेत में काम कर रहे थे। वज्रपात की चपेट में आने से लक्ष्मीकांत व विधान मूर्छित हो गए। एमजीएम अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

दोनों युवकों की मौत से गांव में पसरा मातम

कुछ दिन पहले विधान पटमदा के दिघी गांव अपने मौसी के घर घूमने आया था और भाई के कहने पर ही खेती कार्य में साथ देने के लिए भिंडी के खेत में पहुंचा था। दो युवकों की मौत से गांव का माहौल गमगीन हो गया। स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। बोड़ाम थाना प्रभारी शंकर लकड़ा ने बताया कि घटना की सूचना मिली है। पुलिस ने घायलों को अस्पताल भिजवाया था।

Edited By: Madhukar Kumar