जमशेदपुर : प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार मिश्रा की अदालत में सोमवार को वर्षा पटेल की हत्या मामले में मृतका की पड़ोसी रितिका महानंद की गवाही हुई। उसने पुलिस के सामने दिए गए बयान को अदालत में दोहराया और हत्या से जुड़ी कई जानकारियां दी, लेकिन वीडियो कान्फ्रेंसिंग में आरोपित एएसआई धमेंद्र सिंह को पहचान नहीं पाई। उसने अदालत में कहा कि वर्षा पटेल हमेशा अपने दोस्त धमेंद्र सिंह के साथ आना-जाना करती थी। वर्षा पटेल ने उससे कहा था कि धमेंद्र सिंह ने उसकी कई तस्वीर खींच रखी है और उसे दिखा ब्लैकमेल करता है। रुपये मांगता है। एक लाख 63 हजार रुपये वह दे चुकी है। बताया 12 नवंबर 2021 को वर्षा पटेल एक बाइक पर सवार होकर धमेंद्र सिंह के साथ गई थी। इसके बाद वह वापस नहीं लौटी। 18 नवंबर 2021 को वर्षा पटेल का शव टेल्को के तारकंपनी तालाब में बोरे में मिलने की जानकारी मिली। अभियोजन पक्ष की ओर से अधिवक्ता विद्या सिंह पैरवी कर रहे है।

क्या है मामला

बिष्टुपुर साउथ पार्क निवासी महिला वर्षा पटेल की हत्या की मामले में प्राथमिकी उसकी बहन जया पटेल की शिकायत पर धमेंद्र सिंह के विरुद्ध टेल्को थाना में 18 नवंबर 2021 को दर्ज की गई थी। पुलिस ने मामले में आरोपित को बिहार से गिरफ्तार किया था। उसका आरोप है कि धमेंद्र सिंह ने बहन की हत्या 12 नवंबर को टेल्को स्थित अपने घर में गला दबाकर दी थी। इसके बाद हत्या का साक्ष्य छुपाने को शव को बोरी में बंद कर तारकंपनी तालाब में फेंक दिया था। इसके बाद 13 नवंबर को बिहार के आरा पैतृक आवास चला गया था। गिरफ्तारी के बाद हत्या का खुलासा हुआ था।

-----------

सामूहिक दुष्कर्म मामले में प्रेमी समेत दो दोषी करार

जमशेदपुर। अपर जिला व सत्र न्यायाधीश राजेंद्र कुमार सिन्हा की अदालत ने छात्रा के सामूहिक दुष्कर्म मामले में सुमन सिंह और सागर महाली काे दोषी करार दिया। सजा के बिंदु पर अदालत 30 जून को फैसला सुनाएगी। घटना 11 फरवरी 2021 की है। पुलिस को लिखित शिकायत में छात्रा ने बताया बिरसानगर जोन संख्या आठ निवासी सुमन सिंह राजपूत उसका परिचित है। अपनी बहन से मिलाने के बहाने उसे लेकर बिरसानगर कुआं मैदान के पास ले गया। वहां से झांसा देकर बिरसानगर के हुरलुंग की ओर ले जाने लगा। रास्ते में बाइक पर सुमन का मित्र सागर महाली भी बैठ गया। हुरलुंग के सुनसान इलाके में ले जाने के बाद सभी ने वहां शराब सेवन किया। युवती की मानें तो उसे जबरन शराब पिलाई गई। सुमन और संजय महाली ने उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इसके बाद सुमन सिंह राजपूत ने बाइक में लाकर उसे घर की ओर छोड़ा वहां भी उसके साथ दोबारा दुष्कर्म किया। पुलिस को बताया सुमन सिंह से कुछ दिन पहले ही दोस्ती हुई थी। नौ फरवरी 2021 को बिष्टुपुर के एक माल में घूमाने ले गया था। बिरसानगर थाना की पुलिस ने सदर अस्पताल में छात्रा की मेडिकल जांच कराई। अदालत में पुलिस ने छात्रा का 164 के तहत बयान कलमबंद कराया था

Edited By: Sanam Singh