जमशेदपुर, जासं। आधुनिक जीवन में सुलभता के लिए जहां मनुष्य की जरूरत और निर्भरता तरह-तरह के बिजली और इलेक्ट्रानिक उपकरण बढ़ती जा रही है। वहीं दूसरी और बेकार और अनुपयोगी उपकरणो की संख्या भी तेजी से बढ़ी है। इन बेकार और अनुपयोगी उपकरणो का कोई ठोस प्रबंधन ना होने की वजह से यह कचरे के रूप में सालों साल पड़े रहते है। इसी समस्या के समाधान के लिए आशियाना गार्डेन कालोनी के सचिव पंकज झा के प्रयास से ई-कचरा प्रबंधन के अग्रणी कंपनी हुलाडेक रिसाइकिल प्राइवेट लिमिटेड निदेशक नंदन माल के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किया। जमशेदपुर में हुलाडेक ई-कचरा का संग्रह और निष्पादन जुस्को के सहयोग से करेगी। सोसाइटी में कंपनी ने दो इ-कचरा संग्रह केंद्र को स्थापित किया गया। इसका उद्घाटन अंजनी निधि (निदेशक, रोटरी क्लब), नंदन माल (हुलाडेक) और एस जान शुभकर (जुस्को) द्वारा की गई। उद्घाटन के मौके पर कविश्री झा, सतनाम कौर, मोहन शर्मा, राजेंद्र पासवान, एस गौड, बीकेडी अग्रवाल, बिनोद साहू आदि के अलावा सोसाइटी के कई सदस्य उपस्थित थे।

बिजली आपूर्ति ठप, बढ़ा पेयजल संकट

आदित्यपुर। बीते शुक्रवार को आऐ तेज आंधी एवं पानी के कारण विद्युत आपूर्ती पुरी तरह से ठप्प रहा। जिसके कारण शनिवार के सुबह 5 बजे आदित्यपुर कालोनी में विद्युत आपूर्ती हुआ। बिजली गायब होने के कारण पानी टंकी में पानी नही होने के कारण आम जनता को शनिवार को पानी के लिए टैंकर के उपर निर्भर रहना पड़ा। इसको लेकर आदित्यपुर नगर निगम के द्वारा सुबह से ही पानी का टैंकर प्रदान किया गया। जगह जगह उसके द्वारा पेयजल की आपूर्ती किया गया। इसके तहत बंतानगर,सालडीह बस्ती,के अलावा कई स्थानों पर पेयजल की आपूर्ती टैंकर के द्वारा किया गया। इसको लेकर सुबह से ही आम जनता के द्वारा पेयजल लेने हेतु अपना बर्तन लेकर खड़े रहे।जैसे ही पानी का टैंकर आया तो लोग पानी लेने के लिए एक दुसरे से भिड़ने को आमादा हो गया।बिजली गायब रहने के कारण पुरे आदित्यपुर में पेयजल की आपूर्ति शनिवार को ठप्प हो गया।

शनिवार के सुबह आयी बिजली

बीते शुक्रवार को आऐ तेज आंधी तुफान के कारण संध्या 5 बजे विद्युत आपूर्ति ठप्प हो गया था। उसके बाद अन्य क्षेत्र में रात्रि 3 बजे के बाद बिजली की आपूर्ति किया गया लेकिन कुलुपटांगा फीडर में शनिवार के सुबह 5 बजे विद्युत आपूर्ति किया गया था।जिसके बाद लोगो के द्वारा चैन की सांस लिया गया।

Edited By: Madhukar Kumar