घाटशिला, जासं। घाटशिला में आयोजित माझी पारगना माहाल के 13वें महासम्मेलन में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शामिल हुए। सम्मेलन में मुख्यमंत्री को 1:10 बजे शामिल होना था। लेकिन वे लेट से पहुंचे। बारिश के बीच हेमंत सोरेन पहुंचे। उन्हें देखने के लिए काफी संख्या में लोग छाता लेकर बैठे थे। 

सभा को संबोधित करते हुए हेमंत सोरेन ने कहा- आदिवासियों के लिए सरकार ने खजाना खोल दिया है। अपने सभ्यता परंपरा को बरकरार रखना हम लोगों का कर्तव्य है। नौकरी के लिए सरकार कृत संकल्पित है। ढाई सौ दिन में जेपीएससी परीक्षा का फॉर्म भरवा कर परीक्षा लेकर रिजल्ट निकाल कर अधिकारियों को योगदान करवा दिया। उन्होंने कहा कि आदिवासियों के लिए बिना गारंटी ऋण की व्यवस्था बैंकों से की गई है। विद्यार्थियों के लिए शिक्षा के द्वार खोल दिया गया है। विद्यार्थियों को सरकार अपने खर्च पर विदेश में पढ़ा रही है।आदिवासियों के उत्थान के लिए सरकार अनेक योजनाएं चला रही है।जनजातीय छात्रों को विदेश में पढ़ने का मौका दे रही है। नियुक्ति प्रक्रियाओं में तेजी लायी है। मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से स्वरोजगार को बढ़ावा दे रही है।विभिन्न जिलों में 90% आदिवासी कैद हैं उनको रिहा कराने के लिए सरकार नियम बनाने पर विचार कर रही है।आदिवासी व्यवस्था की जड़ों को मजबूत करने की आवश्यकता है। सरकार जनजातियों को ऋण देने की प्रक्रिया सरल करेगी।

 पीले पगड़ी व पारंपरिक धोती पहन विभिन्न गांवों के ग्रामीण व ग्राम प्रधान पहुंचे थे। महिलाएं पारंपरिक साड़ी पहन कर कार्यक्रम में पहुंची। ईधर सीएम के कार्यक्रम को लेकर प्रशासनिक स्तर पर पूरी तैयारी की गई है। उपायुक्त विजया जाधव, एसएसपी डॉ एम तमिल वणन समेत अन्य अधिकारी विधि व्यवस्था का बारिकी से अवलोकन कर रहे थे।

बलिदानी की मां से डीसी ने कहा आंटी हम आपके साथ...

माझी पारगना माहाल के दो दिवसीय सम्मेलन में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के हांथों ही बलिदानी गणेश हांसदा के माँ को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। बलिदानी के माता कापरा हांसदा, पिता व भाई कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। पूर्वी सिंहभूम की उपायुक्त विजया जाधव ने मंच से उतर कर बलिदानी कापरा हांसदा के माँ व परिवार के लोगों से मुलाकात की। नियुक्ति पत्र मिलने पर बधाई। डीसी ने बलिदानी की मां से हांथ मिलाकर उनसे बधाई देते हुए कहा कि आंटी हम आपके साथ है। कोई भी बात या परेशानी हो तो हमे जरूर बताएं।

Edited By: Sanam Singh