मुसाबनी (पूर्वी सिंहभूम) संवाद सूत्र। लॉकडाउन की अवधि में किसी को खाने-पीने की दिक्‍कत नहीं हो, इसके लिए व्‍यवस्‍था शुरू कर दी गई है। मुसाबनी प्रखंड परिसर में एक विशेष डेस्‍क स्‍थापित किया जा रहा है जहां आनेवाले गरीबों का रजिस्‍ट्रेशन किया जाएगा ताकि उन्‍हें चावल मुहैया कराने की व्‍यवस्‍था हो सकेत्र 

उनकी भी की जाएगी पहचान जिनके पास नहीं है राशन कार्ड 

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए पूरा देश लॉकडाउन कर दिया गया है। जिससे रोज कमाने खाने वाले मज़दूर व गरीब तबका एक वक्त का भोजन जुटाने के लिए जद्दोजहद कर रहा है। जिनकी चिंता करते हुए राज्य सरकार ने सभी वैसे लोगों की पहचान कर अनाज उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

जिनके पास राशनकार्ड नहीं है। इस आदेश को लेकर मुसाबनी प्रखंड के आपूर्ति पदाधिकारी सिधेश्वर पासवान ने प्रखंड परिसर में डीलरों के साथ बैठक किया और बताया कि प्रखंड परिसर में एक डेस्क स्थापित किया गया है। 

मिलेगा दस किलो चावल

जहां प्रति दिन सुबह 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक दो डीलर बैठेंगे और आने वाले गरीब ग्रामीणों का रजिस्ट्रेशन करेंगे। इसी प्रकार दोपहर 12 बजे से संध्या 6 बजे तक आने वाले ज़रूरतमंद का नाम पता व ज़रूरी जानकारी रजिस्टर में लिखेंगे।

जल्द ही उनकी जांच कर सभी को 10 किलो चावल दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जनवितरण विभाग पूरी तरह तैयार है। भूख से किसी को मरने नहीं दिया जाएगा। साथ ही सरकार द्वारा आगे भी जो दिशानिर्देश प्राप्त होगा पूरी तरह पालन किया जाएगा।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस