मुसाबनी / जमशेदपुर (जेएनएन)। पिछले दिनों झारखंड के बुंडू के खूंटी से पकड़े गये कजाकिस्तान और तुर्की के ग्यारह मुस्लिम धर्म गुरुओं की जांच पूरी हो गयी है।कोरोना संक्रमण की उनके दोनों रिपोर्ट निगेटिव आई है यानी किसी में कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं पाया गया।

वहीं जादूगोड़ा थाना में मंगलवार को 13 मुस्लिम धर्मगुरूओं के खिलाफ वीजा एवं लाकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया हैं। इस आलोक में बुधवार को पूर्वी सिंहभूम के सीनियर एसपी अनूप बिरथरे स्वासपुर स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर पहुंचे और मामले का बारीकी से जायजा लिया। साथ ही क्वारंटाइन में डयूटी पर तैनात डॉक्‍टर व कर्मियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। 

एसएसपी ने कहा- जांच के बाद की गई कार्रवाई 

सीनियर एसपी ने कहा कि विस्तृत जांच के बाद पता चला कि ये लोग टूरिस्ट वीजा पर आकर धर्म का प्रचार कर रहे थे। लॉकडाउन के नियमों उल्‍लंघन भी किया था।  इसलिए इनपर मुकदमा किया गया है। कहा कि आप संबंधित देश में जाकर वही काम कर सकते हैं जिस काम के लिए वीजा बना है।  उन्‍होंने कहा कि पुलिस ने सात अप्रैल को काण्ड संख्या 22/20, धारा 188/269/270/आईपीसी एवं 14 बी विदेशी अधिनियम 1946 के तहत 13 लोगों पर मामला दर्ज किया है। 

13 में 11 कजाकिस्‍तान व तुर्की के 

जिन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है उनमें झाबेग, इस्लाम बेग, रूस्तम, ईमायल, साकिर, जाकीर, ईल्यास, येदेही, मामायली, मिमयाली, गुलूमुदिदन यह 11 कजाकिस्तान और तुर्की के है जबकि दो मो. जाहिद परवेज व अबदुल सलाम अजादनगर, मानगो के निवासी हैं। एसएसपी ने कहा कि इन सभी को फिलहाल 28 दिन के क्वारंटाइन में रखा जाएगा, कोर्ट के आदेशानुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी।

टूरिस्‍ट वीजा पर आए, कर रहे थे धर्म प्रचार 

ये सभी 11 धर्मगुरू टूरिस्ट वीजा पर भारत आये थे। टूरिस्ट वीजा भारत आने के बाद ये आरोपी धर्मगुरू तबलीगी जमात के लिए काम कर रहे थे। मालूम हो की हाल ही में पुलिस ने तमाड़ के बुंडू स्थित मस्जिद से 11 विदेशी धर्मगुरूओं को हिरासत में लिया था। पुलिस को सूचना मिली थी कि मस्जिद में विदेशी धर्मगुरू छिपे हुए हैं, जो कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच देशभर में लागू लॉकडाउन के सभी नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं।

लिए गए हिरासत में

सूचना के आधार पर पुलिस ने छापा मार 11 धर्मगुरूओं को हिरासत में लिया। पुलिसिया जांच में मालूम पड़ा की सभी चीन, किर्गीस्तान एवं कजाकिस्तान के रहने वाले है और टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर तबलिकी जमात का काम कर रहे हैं। इसके बाद सभी को मुसाबनी के स्वासपुर स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेन्टर में 14 दिनो के लिए क्वारंटाइन में रखा गया हैं।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस