जमशेदपुर, जासं । पूर्वी सिंहभूम जिले के कदमा थाना क्षेत्र मरीन ड्राइव के घोड़ा चौक के पास सड़क दुर्घटना को लेकर शुक्रवार को भी स्थानीय लोगों ने बवाल काटा। सड़क जाम कर विरोध-प्रदर्शन किया। ईंट-पत्थर सड़क पर बिखेर दिया। बांस-बल्ली से सड़क से अवरुद्ध कर दिया। जिससे मरीन ड्राइव पर यातायात प्रभावित हुआ।

सूचना पर कदमा थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। लोगों से जाम हटाने का आग्रह किया। लोग दुर्घटना में घायल बच्चे आनंद देवगम को इलाज के लिए वेल्लोर भेजने और पांच लाख मुआवजा देने की मांग पर अड़े रहे। जिस वाहन से दुर्घटना हुई उसे जब्त करने की मांग करते रहे। इसके बाद वरीय पुलिस अधिकारी समेत कई प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे। क्यूआरटी फोर्स को भी बुला लिया गया था। लोगों को आश्वस्त किया कि वाहन की पहचान को पुलिस प्रयासरत हैं। बच्चे का इलाज हो रहा है। हर संभव पुलिस-प्रशासन सहयोग करेगा। बच्चे की स्थिति खतरे से बाहर है। इसके बाद लाेग सड़क हटने को तैयार हुए।

गुरुवार को हुआ था हादसा

गुरुवार दोपहर आठ वर्षीय आनंद देवगम सड़क पार कर रहा था। आदित्यपुर की ओर से मरीन ड्राइव आ रही कार की चपेट में आने से वह घायल हो गया था। घटना के बाद कार चालक वाहन लेकर भागने में सफल रहा। कार में भाजपा का झंडा लगा था। दुर्घटना के विरोध में गुरुवार को भी लोगों ने सड़क पर टायर जलाकर विरोध-प्रदर्शन किया था। सड़क जाम समाप्त कराने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। घायल बच्चा टाटा मुख्य अस्पताल में दाखिल है। मरीन ड्राइव की सड़क किनारे कई बस्ती बसी हुई है। बच्चे सड़क किनारे खेलते है। लोग सड़क पार कर नदी की ओर आते-जाते है। मरीन ड्राइव से भारी वाहनों का आवागमन होता है जिससे हमेशा दुर्घटना होती है और दुर्घटना के विरोध में लोग बवाल काटते हैं। इससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पडता है।

Edited By: Rakesh Ranjan