जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। रविवार का दिन जमशेदपुर एफसी के लिए करो या मरो वाला था। लेकिन दुर्भाग्य, ना तो मेन ऑफ स्टील मैदान पर कुछ किया और ना ही जीत के लिए मरने वाली जीजीविषा दिखी। जमशेदपुर एफसी का दीवार कहे जाने वाले तिरी चोटिल हैं और इस खिलाड़ी की कमी मैदान पर खूब खली। हाल यह है कि पिछले दो मैच में जमशेदपुर एफसी का शर्ममाक प्रदर्शन रहा।

दो बार के चैंपियन एटीके चैंपियन की तरह खेली और जमशेदपुर एफसी की गलतियों का भरपूर फायदा उठाया। इसी का नतीजा है कि कोलकाता की इस टीम ने मेजबानों को 3-0 से परास्त कर दिया। इसी के साथ उसने अंक तालिका में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया। 

 दूसरे मिनट में ही कृष्णा का दिखा अवतार

खेल के दूसरे मिनट ही एटीके के स्ट्राइकर कृष्णा ने दम दिखाया और जमशेदपुर एफसी की गलतियों का फायदा उठाते हुए गोल कर दिया। यहीं से जमशेदपुर एफसी के हौसले पस्त हो गए। इसके बाद इदु गार्सिया ने 59वें मिनट में गोल किया। एटीके की 15 मैचों में यह नौंवीं और लगातार तीसरी जीत है। टीम के अब 30 अंक हो गए हैं और वह तालिका में पहले नंबर पर पहुंच गई है। 

14 मैचों में जेएफसी की छठी हार

जमशेदपुर की 14 मैचों में यह छठी हार है। जमशेदपुर को अपने पिछले छह मैचों में से पाच में हार का सामना करना पड़ा है। टीम इस समय 16 अंकों के साथ सातवें नंबर पर है। संदीप ने की गलती और गोल मेहमान एटीके ने मैच में शानदार शुरुआत की और दूसरे मिनट में ही अपना खाता खोल लिया। जमशेदपुर के युवा खिलाड़ी संदीप मादी ने अपने साथी जितेंद्र सिंह को पास देना चाहा, लेकिन कृष्णा ने बॉल को जितेंद्र तक पहुंचने से पहले ही अपने कब्जे में कर लिया और इसे नेट में डालकर एटीके को 1-0 की बढ़त दिला दी। कृष्णा का सीजन का यह नौवा गोल है। 13वें मिनट में एटीके ने एकबार फिर से मेजबान टीम के डिफेंस में सेंध लगाने की कोशिश की, लेकिन कृष्णा का शॉट सीधे सुब्रतो पॉल के हाथों में चला गया।

जितेंद्र को पीला कार्ड

पॉल ने 26वें मिनट में भी शानदार बचाव करते हुए जमशेदपुर को दूसरा गोल नहीं खाने दिया। अगले ही मिनट में मेजबान टीम के जितेंद्र को पीला कार्ड दिखा दिया गया। एटीके ने 39वें मिनट में पेनाल्टी की माग की, लेकिन रेफरी ने इस पर कॉनर्र दे दिया। मेजबान टीम हालाकि 54 प्रतिशत बॉल पजेशन अपने पास रखने के बावजूद सफलता हासिल नहीं कर पाई और एटीके ने पहले हाफ की समाप्ति तक अपनी बढ़त को कायम रखा।

दूसरे हाफ में कमजोर नजर आई मेजबान टीम

पहले हाफ में अपनी कमजोर डिफेंस के कारण एटीके को बार-बार मौके देने वाली जमशेदपुर की टीम दूसरे हाफ में भी कमजोर ही नजर आई। 53वें मिनट में जमशेदपुर के जितेंद्र को मैच में दूसरी बार पीला कार्ड दिखाया गया, जोकि रेड कार्ड में तब्दील हो गया और जितेंद्र को मैदान से बाहर जाना पड़ा। जितेंद्र के बाहर जाने के बाद जमशेदपुर के लिए अब अपने 10 खिलाड़ियों के साथ मैच में वापसी करना मुश्किल हो गया। इसके अगले ही मिनट में जमशेदपुर के एक और खिलाड़ी जॉयनर लौरेंसो को पीला कार्ड मिला। 

59वें मिनट में एटीके को मिली दूसरी सफलता

59वें मिनट में एटीके ने एक बार फिर से हमला बोला और मैच में 2-0 की बढ़त बना ली। मेहमान टीम के लिए इस बार यह गोल गार्सिया ने कृष्णा की मदद से दागा। गार्सिया का सीजन का यह चौथा गोल है। 

75वें मिनट में कृष्णा का कमाल

अगले ही मिनट में गार्सिया को पीला कार्ड मिला। लेकिन कृष्णा ने 75वें मिनट में एटीके की बढ़त को 3-0 करने में कोई गलती नहीं की और मैच में अपना दूसरा गोल दाग दिया। कृष्णा का सीजन का यह 10वा गोल है और अब वह टॉप स्कोररों की सूची में तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं। 

निश्चित जीत के बावजूद आक्रामकता में कोई कमी नहीं मैच में 3-0 की एकतरफा बढ़त लेने के बावजूद एटीके ने अपना आक्रमण जारी रखा जबकि जमशेदपुर लगातार कोशिशों के बावजूद मैच में अपना खाता नहीं खोल पाई और मुकाबला इंज्युरी टाइम में चला गया। एटीके ने इंज्युरी टाइम में भी जमशेदपुर को कोई गोल नहीं करने दिया और 3-0 से एकतरफा जीत हासिल कर ली।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस