पोटका, जासं। पोटका में एक बेहद ही सनसनीखेज मामला सामने आया है, जब एक पिता को ये पता चला कि उसकी बेटी बिना शादी के ही मां बन गई है। अब पिता और पुत्री दोनों प्रशासन से न्याय की गुहार लगा रही है और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रही है।

गोद में बच्चा लेकर न्याय की गुहार लगा रही पीड़िता

दरअसल, पीड़ित युवती पास के ही गांव के एक युवक के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था, पीड़िता के मुताबिक आरोपी युवक ने उसे शादी का झांसा देकर पहले तो कई बार शारीरिक संबंध बनाए। लेकिन जब युवती ने प्रेमी को इस बारे में बताया और शादी करने की बात कही तो उसने सीधे तौर पर इनकार कर दिया। जानकारी के मुताबिक एक पेड़ के नीचे युवती ने बच्चे को जन्म दिया। जच्चा-बच्चा तो ठीक है, लेकिन बच्चे का वजन कम होने के कारण संकट आ गया है।

दाने-दाने को मोहताज हुआ परिवार

वहीं दूसरी ओर पीड़िता का परिवार काफी गरीब है। युवती की कमाई से ही घर चल रहा था, लेकिन अब युवती काम करने की स्थिति में नहीं है, पिता दिव्यांग हैं, जिसकी वजह से अब घर में खाने का एक दाना नहीं है और रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। पीड़िता का कहना है कि हम लोगों को ही खाने का दाना नहीं मिल पा रहा है। तो बच्चे को कैसे भोजन मिल सकता है। वहीं न्याय के लिए कहां जाएं इनको अब समझ में नहीं आ रहा है।

सीडीपीओ ने तत्काल मुहैया करवाई सुविधाएं

घटना की सूचना सीडीपीओ विभा सिन्हा को जैसे ही प्राप्त हुआ, उन्होंने तत्काल आंगनवाड़ी सेविका सुकमति सरदार के परिवार को आंगनवाड़ी से मिलने वाली सारी सुविधाएं तत्काल उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। सीडीपीओ विभा सिन्हा ने कहा कि जच्चा-बच्चा को आंगनबाड़ी से मिलने वाली सारी सुविधाएं तत्काल व्यवस्था की जा रही है। साथ ही साथ वैक्सीनेशन को लेकर निर्देश आंगनबाड़ी सेविका को दे दिया गया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ रजनी महाकुड़ ने कहा कि मुझे इस तरह की सूचना नहीं मिली थी। मगर मैं तत्काल एनएम को निर्देश दे दिया हूं कि जाकर जच्चा-बच्चा को वैक्सीनेशन कर तत्काल उन्हें स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराएं ।

Edited By: Madhukar Kumar