गालूडीह(जमशेदपुर)। घाटशिला थाना क्षेत्र के बनकाटी पंचायत के फुलपाल गांव पत्नी को लाने गए बिनोद किस्कु को पत्नी औऱ सास ने मारकर लहूलुहान कर दिया। घटना के सूचना पर मुखिया हीरालाल सोरेन व पंसस फारूक आलम ने घायल बिनोद को घाटशिला अनुमंडल अस्पताल चिकित्सा के लिए ले गए, जहां घायल बिनोद का इलाज चल रहा। पंचायत प्रतिनिधियों ने घटना की जानकारी घाटशिला थाना को दी। सूचना पर घाटशिला थाना पुलिस अस्पताल जाकर घायल का बयान लिया। घटना के संबंध में घायल बिनोद ने पुलिस को बताया कि मैं मुसाबनी में रहता हूं।  बस चला कर परिवार का भरण पोषण करता हूं।

मायके में रहती है पत्नी

बिनोद ने कहा- परिवारिक विवाद के लिए पत्नी बाहा किस्कू दो बच्चे छोड़ कर काफी समय फुलपाल गांव स्थित मायके में रह रही। आज जब मैं पत्नी बाहा को लाने ससुराल गया। जैसे ही घर मे प्रवेश किया कि पत्नी बाहा एवं सास दुर्गी मुझ पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। अचानक हुए हमले के कारण मैं संभल नहीं सका, ग्रामीणों ने मुझे बचाया, नहीं तो पत्नी व सास ने मुझे जान से मार देती। वहीं पुलिस ने कहा मंगलवार को घटना पर मामला दर्ज किया जाएगा।

आंधी के कारण स्ट्रीट लाइट का खंभा युवक पर गिरा

जमशेदपुर। मानगो थाना क्षेत्र शांतिनगर निवासी कृष्ण गोपाल दुबे के इकलौता बेटे राहुल दुबे पर तेज आंधी के कारण स्ट्रीट लाइट का खंभा गिर गया। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे टीएमएच में दाखिल कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। घटना बिष्टुपुर थाना क्षेत्र कांतिलाल अस्पताल के पास की है। घायल अरका जैन यूनिवर्सिटी से बाइक से वापस अपने घर मानगो लौट रहा था। उसकी बाइक पर खंभा गिर गया। उसने बताया उसके पीछेपीछे किसी कंपनी की बस आ रही थी जिसने उसे अपने बस में बैठा कर टाटा मुख्य अस्पताल ले जाकर छोड़ा। राहुल के जेब से फोन निकालकर राहुल के पिता कृष्ण गोपाल दुबे को जानकारी दी। इसके बाद स्वजन अस्पताल पहुंचे। उसके चेहरे की सर्जरी होने की जानकारी दी। राहुल का हाल जानने भाजपा नेता विकास सिंह टाटा मुख्य अस्पताल पहुंचे। कहा कुछ वर्ष पहले भी स्ट्रीट लाइट गिरने से मौके में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी।

Edited By: Sanam Singh