जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : पूर्वी सिंहभूम में मैट्रिक परीक्षा परिणाम अच्छा होने के बावजूद शिक्षा विभाग आराम के मूड में नहीं है। विभाग इसे और दुरुस्त करना चाहता है। 80 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों पर कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। उन्हें शोकॉज जारी किया जाएगा।

जिला का शिक्षा विभाग परिणाम की समीक्षा की तैयारी में जुट गया है। सारे स्कूलों से रिजल्ट मंगाए जा रहे हैं। पूर्वी सिंहभूम में कुल 147 सरकारी हाईस्कूल और 18 अल्पसंख्यक हाईस्कूल हैं। इन सभी से रिजल्ट का प्रतिशत देने को कहा गया है। इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय की ओर से आदेश जारी कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि 80 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों को सबसे पहले शोकॉज जारी किया जाएगा। जवाब के आधार पर स्कूल के प्रभारी प्रधानाचार्य और शिक्षकों का एक दिन का वेतन भी कट सकता है। सभी स्कूलों को तीन दिन के अंदर रिजल्ट का प्रतिशत उपलब्ध कराने को कहा गया है।

-

पहली बार कस्तूरबा की छात्राएं टॉप-10 में नहीं

पूर्वी सिंहभूम जिला में पहली बार कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय की छात्राएं टॉप-10 तो क्या टॉप-20 में भी स्थान नहीं बना पाई। इसके भी कारणों की समीक्षा विभाग करेगा। इन स्कूलों से विभाग को भी बहुत आशाएं थीं, लेकिन ये विद्यालय इस साल उम्मीद पर खरे नहीं उतरे।

--

-हम रिजल्ट की समीक्षा की तैयारी शुरू कर चुके हैं। स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं। 80 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों पर कार्रवाई की तैयारी की जा रही है।

-शिवेंद्र कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, पूर्वी सिंहभूम

Posted By: Jagran