चाईबासा/जमशेदपुर (जेएनएन)। कोल्‍हान प्रमंडल के पश्चिमी सिंहभूम जिलेे में कई साल तक चले प्रेम प्रसंग के बाद प्रेमी-प्रेमिका ने शादी तो कर ली लेकिन पत्‍नी बनी प्रेमिका के बार-बार कहने के बावजूद उसका पति अपने घर ले जाने में टालमटोल करता रहा। परेशान हो पत्‍नी ने कीटनाशक का उपयोग कर आनी जान देने की कोशिश की। 23 वर्षीय इस  प्रेमिका ने प्रेम विवाह के बाद प्रेमी पति द्वारा अपना घर नहीं ले जाने से नाराज होकर चूहा मारने का दवा खा ली। उसे गंभीर अवस्था में सदर अस्पताल ले जाया गया। जहां पर इलाज के उपरांत उसकी हालत में सुधार हो रहा है।

अपने घर न ले जाकर इधर-उधर रखता था पति

प्रेमी मनीष बारी इचाकुटी का रहने वाला है। वही प्रेमिका सुनीता गोगोई आचू गांव की बताई जाती है। बताया गया कि दोनों के बीच पिछले कई सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। पिछले कुछ माह पूर्व दोनों ने प्रेम विवाह कर लिया। लेकिन प्रेम विवाह के बाद पति अपनी पत्नी को अपने गांव - घर नहीं ले जा रहा था। प्रेम विवाह करने के बाद पत्नी  अपने पति पर अक्सर घर ले जाने के लिए दबाव डाल रही थी। लेकिन अक्सर पति उसे  टालमटोल जवाब देकर पत्नी को इधर-उधर रख रहा था।

इसी बात से नाराज होकर  प्रेमिका ने शुक्रवार को सुबह चूहा मारने वाला दवा पी ली। जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो उसे सदर अस्पताल लाया गया। इसकी सूचना प्रेमी को दी गई तो पति सदर अस्पताल पहुंचा। इसकी सूचना पर पुलिस सदर अस्पताल पहुंची और लड़की का बयान दर्ज कर लिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस