जासं, जमशेदपुर : मानगो में दिनदहाड़े झामुमो नेता मुजाहिद पर फायरिग किए जाने से स्थानीय दुकानदारों में खासा आक्रोश है। दुकानदारों ने सुरक्षा की मांग को लेकर गुरुवार को बैठक करने का निर्णय लिया है। मुजाहिद खुद दुकानदार संघ के संरक्षक हैं। इधर झामुमो के केंद्रीय सदस्य बाबर खान ने फायरिग की घटना को गंभीर बताते हुए कहा कि पुलिस-प्रशासन मामले को हल्के में नहीं ले। फायरिग की घटना को रोका नही गया तो तो बड़ी घटना हो सकती है। जल्द से जल्द से मामले का खुलासा करे। अगर 48 घंटे के भीतर आरोपित को नहीं किए गए तो झामुमो आगे की रणनीति तय करेगी।

--

पुलिस ने दो खोखा किया बरामद

घटनास्थल से पुलिस ने दो खोखा बरामद किया है। इस मामले में मानगो थाने में चार अज्ञात अपराधियों के खिलाफ जान से मारने की नीयत से फायरिग करने का मुकदमा दर्ज कराया गया है। मालूम हो कि मानगो, आजादनगर और कपाली में चार दिनों से लगातार फायरिग की घटना हो रही है।

--

फायरिंग में शामिल युवक ने कहा, बड़े अजीब आदमी हैं आप

मुजाहिद सईद खान ने बताया कि इंडियन बेकरी के पास झामुमो कार्यालय के नीचे वे करीब 20 वर्षो से बैठ रहे हैं। कभी ऐसी घटना नहीं हुई। बुधवार तीन युवकों को उन्होंने खड़े और एक युवक को बैठे देखा। उन्हें लगा कि चारों युवक बाहरी हैं और उसे पहचानते नहीं हैं। कुर्सी पर बैठे युवक से बैठने का कारण पूछा तो युवक उलझ गया। कहा कि बड़े अजीब आदम हैं आप। इसके बाद गाली-गलौज पर उतर आया। वे समझ गए कि चारों युवक अपराधी हैं। पीठ के पीछे सभी ने पिस्तौल छुपा रखा था। इसकी सूचना तत्काल मानगो इंस्पेक्टर को दी। युवकों को पकड़ने का प्रयास किया तो भीड़ को देख युवकों ने फायरिग कर दी। बताया जा रहा कि युवक वहां शीतल पेय पीने को बैठे थे।

--

पुलिस मौके पर पहुंच जाती तो पकड़ लिए जाते अपराधी

झामुमो नेता और स्थानीय लोगों की माने तो अगर पुलिस मौके पर पहुंच जाती तो शायद अपराधी पकड़ लिए जाते। फायरिग की घटना भी नहीं होती।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप