जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज को चमकाने के लिए फंड सरकार ने उपलब्ध कराया है। इसमें हॉस्टल व ड्रेनेज सिस्टम भी शामिल है।

कुछ माह पूर्व स्वास्थ्य विभाग के तत्कालिन सचिव ने कॉलेज का निरीक्षण किया था जिसमें कई खामियां उजागर हुई थी। एमजीएम मेडिकल कॉलेज का भवन जर्जर हो चुका है। स्थिति यह है कि भवन व उसके छज्जा टूटकर गिर रहा है। इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को कुल एक करोड़ 53 लाख छह हजार 450 रुपये दी है। विभाग ने इस फंड को पीडब्ल्यूडी विभाग को भेज दिया है और जल्द से जल्द मरम्मत करने को कहा है।

कुछ दिनों पूर्व ही एमजीएम कॉलेज के गेट पर खड़े एक कर्मचारी के बगल में छज्जा टूट कर गिर गया। यह संयोग ही रहा कि वह बाल-बाल बच गया। वहीं कॉलेज में जल्द ही गेस्ट हाउस का भी निर्माण कराया जाएगा। एमसीआइ के अनुसार, कॉलेज में गेस्ट हाउस जरूरी है।

---------------

चालू हुआ स्टडी रूम

मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआइ) के अनुरूप कॉलेज में हर सुविधा बहाल की जा रही है। एमबीबीएस छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग अत्याधुनिक स्टडी रूम बनना शुरू हो गया है। दोनों स्टडी रूम में 49-49 कुर्सियां लगी हैं। वहीं कुल छह एयर कंडीशन भी लगाए गए हैं।

------------

कॉलेज में ई-लाइब्रेरी जल्द

छात्र-छात्राओं के लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज में जल्द ही ई-लाइब्रेरी बनेगी इसका टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है। ई-लाइब्रेरी शुरू होने से एमबीबीएस छात्रों को कई तरह की नई-नई जानकारियां हासिल हो सकेगी। इससे उनके पाठ्यक्रम पूरा करने में भी आसानी होगा।

-------------

किस मद में कितने फंड मिले

- एमजीएम कॉलेज के मरम्मत के लिए : 3956550

- छात्रावास को मरम्मत के लिए : 4087650

- ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त करने के लिए : 2492250

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस