जमशेदपुर, जासं। अब झारखंड के हाजी एयर इंडिया से हज करने सऊदी अरब नहीं जाएंगे। इस बार हज में इंडियन एयरलाइंस ने हाजियों को काफी रुलाया है। इस वजह से हाजी नाराज हैं। हाजियों के कहने पर प्रदेश हज कमेटी ने केंद्रीय हज कमेटी को पत्र लिख कर आगामी हज के लिए नया टेंडर करने की सिफारिश की है।

एयर इंडिया लेती है 36 हजार अधिक किराया

हाजियों का कहना है कि इंडियन एयर लाइंस की वजह से हाजियों को हज का एक तरफ का किराया 36 हजार रुपये अधिक देना पड़ता है। दिल्ली से सऊदी अरब हज पर जाने का किराया 68 हजार रुपये निर्धारित है। जबकि, झारखंड के हाजी को इससे 36 हजार रुपये अधिक देने होते हैं। क्योंकि, एयर इंडिया के विमान हज यात्रियों को लेकर पहले दिल्ली जाते हैं और फिर वहां से सऊदी अरब के शहर जेद्दा के लिए उड़ान भरता है। इसलिए एयर इंडिया हाजियों से 36 हजार रुपये अधिक वसूल करती है। यदि रांची से सीधे जेद्दा के लिए उड़ान होगी तो हाजियों की रकम घटेगी।

अगले दिन सामान देती है एयर इंडिया

हज कर शहर लौटे हाजी मकबूल अहमद ने बताया कि एयर इंडिया ने इस बार हाजियों को खूब परेशान किया। एयर इंडिया हाजियों का सामान उसी विमान से नहीं लाकर अलग विमान से बाद में लाती थी। इस तरह, हाजियों का सामान एक दिन बाद एयरपोर्ट से मिलता था। यही नहीं, एयर इंडिया के विमान वाया दिल्ली जाने की वजह से अन्य कंपनियों के विमानों तीन से चार घंटा अतिरिक्त समय लेते हैं। इसलिए भी हाजी नाराज हैं।

संयोजकों को फार्म भरने की ट्रेनिंग

आगामी हज यात्रा को लेकर हज कमेटी की कवायद शुरू हो गई है। हज कमेटी के खुर्शीद ने बताया कि हज कमेटी ने जिलों के खादिम उल हुज्जाजों को हज के ऑन लाइन फार्म भरने की ट्रेनिंग दी।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस