जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : आंध्रा स्पोर्टिग यूनियन के लिए यह मैच किसी दुरुह स्वप्न से कम नहीं था। जेएसए प्रीमियर डिवीजन लीग में गत चैंपियन टाटा स्टील को पराजित करने वाली तथा इस साल की चैंपियन टाटा फुटबॉल अकादमी के साथ ड्रॉ खेलने वाली आंध्रा स्पोर्टिग यूनियन ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि ए डिवीजन की टीम ग्रामीण फुटबॉल अकादमी से उसे हार का सामना करना पड़ेगा।

हालांकि शुरुआत में आंध्रा स्पोर्टिग यूनियन आक्रामक नजर आ रही थी। लगातार प्रयास के कारण ही उसे शुरुआती दौर में सफलता मिल गई। खेल के नवें मिनट में सुनील सोरेन ने साथी खिलाड़ी द्वारा दिए गए पास को गोल में तब्दील कर दिया। गोल खाकर बौखलाई ग्रामीण फुटबॉल अकादमी की सेना ने जवाबी हमला किया, लेकिन आंध्रा स्पोर्टिग की रक्षा पंक्ति ऐसे हमले के लिए पहले से ही तैयार बैठी थी। मध्यांतर तक आंध्रा स्पोर्टिग 1-0 से आगे था। मध्यांतर के बाद भी उसकी आक्रामकता में कोई कमी देखने को नहीं मिली। उधर, ग्रामीण फुटबॉल अकादमी के लड़ाकों ने धैर्य नहीं खोया और लगातार प्रयास करते रहा, लेकिन उसे सफलता नहीं मिल पा रही थी। एक समय ऐसा लग रहा था कि आंध्रा स्पोर्टिग यूनियन मैच को अपने कब्जे में ले लेगा, तभी ग्रामीण फुटबॉल अकादमी के बिकास महतो ने 75वें मिनट में शानदार गोल कर विपक्षी टीम के सपनों को एक पल में चकनाचूर कर दिया। मैच के रेफरी बुगई सोरेन, फाटू किस्कू, रंजीत सरदार व मोहन हांसदा थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस