जमशेदपुर : नारी के साग का बहुत फायदा है। साग खाने वालों के लिए यह वरदान साबित होता है। नारी का साग खाने से सेहत को काफी लाभ पहुंचता है। इसका दूसरा नाम करमुआ का साग और वाटर स्पिनेच भी कहा जाता है। सरसों, मेथी, बथुआ, पालक जैसे साग तो आप अक्सर ही खाते रहते होंगे लेकिन क्या कभी आपने नारी का साग खाकर देखा है। इसके बहुत सारे गुण है।

खून की कमी दूर करता है : आयुर्वेदाचार्य सीमा पांडेय के अनुसार, नारी का साग शरीर में खून की कमी को दूर करने में मदद करता है। नारी के साग में काफी मात्रा में आयरन पाया जाता है, जो खून की कमी को दूर करने में मददगार साबित होता है।

पाचन क्रिया को करता है दुरुस्त : पाचन क्रिया को दूरुस्त करने में नारी का साग की अच्छी भूमिका है। इस साग में फाइबर की मात्रा काफी अच्छी होती है और ये नेचुरल लेक्सटेसिव की तरह काम करता है। साथ ही ये फाइबर मेटाबोलिक रेट को भी बेहतर बनाने में मदद करता है।

नियंत्रित करता है कोलेस्ट्रॉल : नारी का साग खाने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। हार्ट संबंधी बीमारियां नहीं होती है। इसमें मौजूद मैग्नीशियम ब्लड वेसेल्स को स्वस्थ रखता है जिससे खून संचरण भी सही रहत है औरदिल की बीमारियों का खतरा कम रहता है।

लीवर डिटॉक्स करने में मिलता है मदद : नारी का साग लीवर डिटॉक्स करने में मदद करता है, यानी ये साग आपके लीवर की गंदगी को दूर करने में मददगार है। बता दें कि नारी के साग में मौजूद एंटी-ऑक्सीटेंड लीवर के इंजाजम को एक्टिवेट करते हैं, जिससे आपका लीवर हेल्दी रहता है।

बढ़ता है आंखी की रोशनी : नारी के साग में काफीमात्रा में विटामिन ए और कैरोटीनाॅयड मौजूद रहता है। ये आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद करता है। इतना ही नहीं नारी के साग को डाइट में शामिल करनेसे रतौंधी रोग भी दूर भागता है।

Edited By: Jitendra Singh