संवाद सूत्र, चाकुलिया : शहर के पुराना बाजार स्थित अग्रसेन धर्मशाला में आंगनबाड़ी कर्मी संघ की बैठक सेविका पुष्पा महतो की अध्यक्षता में बुधवार को हुई। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ दिनेशानंद गोस्वामी उपस्थित थे। सेविका-सहायिकाओं ने गोस्वामी के समक्ष समस्याओं को विस्तार पूर्वक रखा। उन्होंने कहा कि एक तरफ सरकार पोषण माह मना रही है वहीं दूसरी तरफ बीते जून महीने से पोषाहार बंद है। अंडे की आपूर्ति भी बंद कर दी गई है, जो अंडा मिलता था उसमें भी अधिकांश सड़ा हुआ निकलता था। सरकार सेविका-सहायिकाओं से आंगनबाड़ी के अलावा मतदाता सूची पुनरीक्षण, सर्वेक्षण, स्वच्छता अभियान जैसे कई तरह के काम लेती है पर जो मानदेय हमें मिल रहा है वह कहीं से संतोषजनक नहीं है। हमें न्यूनतम मजदूरी भी नहीं दिया जा रहा है। आंगनबाड़ी कर्मियों की समस्याओं से अवगत होने के बाद गोस्वामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक दिन पहले ही आंगनबाड़ी कर्मियों का मानदेय 15 सौ रुपये बढ़ाया है, जो स्वागत योग्य कदम है। उम्मीद है कि राज्य सरकार भी अपने हिस्से से मानदेय और बढ़ाएगी। राज्य की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री लुईस मरांडी ने अगले बजट में इसका प्रस्ताव लाने का आश्वासन दिया है। सरकार आंगनबाड़ी कर्मियों के सेवानिवृत्ति की आयु भी 60 वर्ष से बढ़ाकर 65 वर्ष कर सकती है। गोस्वामी ने कहा कि सेविका-सहायिकाओं की जो भी ज्वलंत समस्याएं हैं उन्हें लेकर जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल मंत्री लुईस मरांडी से मिलेगा। सभी समस्याओं के निदान का प्रयास किया जाएगा। बैठक में प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष शंभूनाथ मल्लिक, शतदल महतो, राजीव महापात्रा, सुरेश ¨सह, सुधीर महतो, मीरा दास, वीणापाणि मल्लिक, रूमा मल्लिक समेत सैकड़ों आंगनबाड़ी कर्मी मौजूद थी।

Posted By: Jagran