जमशेदपुर, जासं। Deepawali 2019 रोशनी का त्योहार दीपावली में चीन के उत्पादों ने अपना कब्जा लौहनगरी के बाजार में जमाए रखा है। चीन ने भारत के इस त्योहार की कीमत को समझते हुए ऐसे उत्पाद तैयार किए हैं जिन्हें भारत के बाजार ने हाथों हाथ लिया। दीपावली में बिजली की सजावट के लिए प्रयोग में आने वाली चीनी झालर, बल्ब, एलईडी और तमाम तरह के रोशनी से जुड़े उत्पाद चीन से ही भारत के बाजार में आने लगा।

चीनी उत्पाद कम कीमत पर आकर्षक दिखाई देते हैं जिसके कारण लौहनगरी के निवासी दीपावली में अपनी जेब का ख्याल रखते हुए चीनी उत्पाद को ही खरीदना पसंद कर रहे हैं। घर में पहले मिंट्टी के दीये प्रयोग में लाए जाते थे। लेकिन इसकी जगह अब चाईना के दिये व मोमबत्ती ने ले लिया है। एलईडी लगी झालर 50 रुपये से 400 रुपये तक बिक रही है। दीये व मोमबत्ती 100 से 150 के बीच बिक रहे रहे हैं। बाजार में चीनी फैंसी लाइट दुकानदारों ने सजा कर रखी हैं, जो दूर से ही ग्राहकों को अपनी और आकर्षित कर रही हैं। फैंसी लाइट 70 रुपये से से 450 रुपये के बीच मिल रही है।

एलईडी पाइप झालर 50 मीटर का बंडल

तीन से पांच हजार रुपये के बीच बेची जा रही है। इस एलईडी पाइप झालर की खास बात यह है कि यह बरसात में यह भीगती नहीं है और धूप में यह गरम भी नहीं होती है। हालांकि एलईडी पाइप झालर लाइट को मीटर के हिसाब से भी दुकानदार बेच रहे है। यह 70 से 90 रुपये मीटर के हिसाब से बेची जा रही है।

लक्ष्मी गणेश की मूर्ति कर रही आकर्षित

साकची बाजार में बिकने वाली लक्ष्मी गणेश की चीनी मूर्ति भी ग्राहकों को आकर्षित कर रही है। चीनी लक्ष्मी- गणेश की अलग-अलग व एक साथ मूर्ति बेची जा रही है। इस चीनी लक्ष्मी गणेश की मूर्ति में एलईडी ब्लब लगाकर इसे और आकर्षित बनाया गया है। इसकी कीमत 120 रुपये से 450 रुपये तक है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप