जमशेदपुर : आप कौन सा डिश टीवी इस्तेमाल करते हैं। अब इसको लेकर भी फोन काल आने लगे है तो जरा काल से संभल कर रहे। काल करने वाले डिश कंपनी के नही बल्कि साइबर ठग हो सकते है जो काल के बहाने संपर्क कर आपके बैंक खाते की गोपनीय जानकारी लेकर गड़बड़ी कर सकते है।

आदित्यपुर का व्यक्ति हो गया शिकार

सरायकेला खरसावां जिले के आदित्यपुर के व्यक्ति के पास शनिवार को एक नही दो बार काल आए। पूछा आपने किस डिश कंपनी का कनेक्शन ले रखा है। बातों में फांसने का प्रयास किया, लेकिन काल रिसीव करने वाले ने फोन काट दिया। फोन काल 919821007376 आया था। नंबर पर संपर्क किये जाने पर फोन नंबर उपयोग में नही है बताया गया। नंबर से काल कई और भी लोगों को किए गए। अगर आपको भी इसी तरह से काल आए तो आप भी संभल जाए। इसी तरह अगर आप भी करते हैं डिश टीवी का रिचार्ज तो हो जाएं सावधान, नही तो ठगी के शिकार हो सकते है, क्योंकि विगत दिनों एक शख्स को ठगों ने डिश टीवी का रिचार्ज करते वक्त ठगी का शिकार बना लिया था।

दरअसल ठगी का शिकार हुए व्यक्ति ने डिश टीवी रिचार्ज के लिए कस्टमर केयर के नंबर पर काल किया था, जहां उसे कस्टमर केयर वालों ने पांच रुपए का रिचार्ज करने को कहा और एक ऑनलाइन फार्म भरवाया। इस फार्म के जरिए ठगों ने पीड़ित के बैंक अकाउंट कि जानकारी ले ली और थोड़ी देर में उसके खाते से लाखों रुपए निकाल लिए गए जब मोबाइल पर मैसेज आया तो उसके होश उड़ गए।

बिजली बिल जमा करने का दबाव देकर 2.67 लाख की निकासी

इसी तरह बिजली बिल भुगतान करने का दबाव देकर कई लोगो के खाते से रुपये की निकासी कर लिए जाने के मामले भी सामने आ रहे है। नया मामला साकची थाना क्षेत्र का है जहां ठाकुरबाड़ी रोड निवासी आनंद कावंटिया को साइबर ठगों ने अपने झांसे में ले लिया और खाते से 2.67 लाख की अवैध निकासी कर ली। बिष्टुपुर साइबर थाना में मामले की लिखित शिकायत की गई।

आनंद ने पुलिस को बताया साकची में उनकी वूल सेंटर नाम की दुकान है जिसका चालू खाता एचडीएफसी, साकची ब्रांच में उसके पिता स्व ललित कुमार के नाम पर है। पुलिस को बताया शनिवार सुबह वे दुकान पर बैठे थे। तभी बैंक में पंजीकृत उनके मोबाइल नंबर पर मोबाइल नंबर 7866973715 नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने कहा बिजली का बिल बकाया है। जमा नहीं करने पर बिजली काट दी जाएगी।

उन्होंने फोन पर ही पूछा क्या करना होगा। फोन करने वाले ने कहा उन्हें मोबाइल पर क्विक सपोर्ट एप डाउनलोड कर सीरेड एप के माध्यम से 10 रुपये का आनलाइन पेमेंट करने को कहा। ठग के कहे अनुसार उन्होंने एप डाउनलोड कर एप के माध्यम से 10 रुपये का पेमेंट किया। एप में एटीएम कार्ड की सारी जानकारी भर दी। उनके खाते से छह बार में कुल 2.67 लाख रुपये की अवैध निकाली कर ली गई।

Edited By: Jitendra Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट