जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : सोनारी थाना अंतर्गत भारत सेवाश्रम संघ जमशेदपुर सोनारी शाखा आश्रम में मंगलवार को स्वामी सुजीत महाराज पर जबलपुर, मध्य प्रदेश निवासी 15 वर्षीय नाबालिग ने दुष्कर्म करने की लिखित शिकायत थाने में की है। शिकायत पर पुलिस ने स्वामी सुजीत महाराज को हिरासत में ले लिया और थाने में बैठाकर पूछताछ कर रही है। इस मामले में पोक्सो एक्ट के तहत दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। गुरुवार को नाबालिग का सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराया गया। सिटी एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि पीड़ित नाबालिग का शुक्रवार को 164 का बयान न्यायालय में पुलिस कराएगी।

शिकायत में पीड़िता ने कहा है कि वह अपने भाई-भाभी के साथ इलाज के लिए एक माह पूर्व ही जमशेदपुर आई थी। उस समय आश्रम में ही 500 रुपये में किराये पर सभी रह रहे थे। बाद में नर्स क्वार्टर सोनारी के पास किराये के मकान में रहने लगी। पीड़िता के मुताबिक 18 दिसंबर की दोपहर में भाभी के साथ खाना बनाने को लेकर बकझक हुई। मैं गुस्से में आकर दोपहर एक बजे भारत सेवाश्रम संघ के मंदिर के पास बैठी थी। मैं सोची आश्रम में शाम की आरती में भाग लेकर घर लौट जाऊंगी। तब तक घर में शांति भी हो जाएगी। इसी बीच करीब दो बजे आरोपित सुजीत महाराज आए और मुझे अपने कमरे में ले गए। कमरे में ले जाकर मुझे खाने के लिए समोसा और अंगूर दिया। उसके बाद मुझे पानी पिलाया और अचानक से मेरे शरीर को छूने लगे। जब मैंने इसका विरोध किया तो उन्होंने जान से मारने की धमकी देते हुए मुझे जबरन बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे कपड़े खोलकर संबंध बनाने लगे। सुजीत महाराज मेरे साथ संबंध बना ही रहे थे कि लगभग पांच बजे मेरी भाभी मुझे खोजते हुए वहा आई और दरवाजे पर पहुंच गई। इसकी वजह से हमदोनों के बीच संबंध अधूरा ही रह गया। मैं शर्म से कपड़े पहनने के लिए बाथरूम में चली गई। सुजीत महाराज ने कमरे का दरवाजा खोलते ही मेरी भाभी को मेरे बारे में उलटा सीधा समझाया और बिस्किट, कुरकुरे, टी शर्ट व शर्ट देकर कहा कि बच्ची को क्यों डांटते हैं। इतना कहने के बाद मैं अपनी भाभी के साथ घर चली आई। पीड़िता के मुताबिक घटना के बाद मैंने घर में कुछ नहीं खाया और दूसरे दिन यानी 19 दिसंबर की सुबह बहुत हिम्मत कर सारी बातें अपनी भाभी को बताई। इसके बाद उन्हें साथ लेकर बुधवार की शाम थाने पहुंची और सुजीत महाराज के खिलाफ थाने में मामला दर्ज कराया।

----

कैंसर का इलाज कराने आया है परिवार

पीड़िता ने अपने बयान में कहा है कि मेरेभैया के दो बच्चे हैं। इसमें एक को गले का कैंसर है। उसी का इलाज कराने के लिए जबलपुर से आए हैं। कैंसर से पीड़ित बच्चे का इलाज एमजीएम सरकारी अस्पताल में चल रहा है। बच्चों का इलाज दिल्ली बनारस, अहमदाबाद और जबलपुर आदि जगहों पर भी कराया गया। उसने बताया कि मेरे भाई खुद होम्योपैथिक के डॉक्टर हैं। वह इस्कॉन से भी जुड़े हुए हैं।

--------

अभद्र व्यवहार पर सिटी एसपी ने जड़ा थप्पड़

उस समय सोनारी थाना में मामला गड़बड़ा गया, जब पीड़िता व स्वामी से पूछताछ के लिए सिटी एसपी प्रभात कुमार पहुंचे। पूछताछ के दौरान ही पीड़िता के भाई ने सिटी एसपी प्रभात कुमार से अभद्र व्यवहार करने लगा। पुलिस द्वारा समझाया गया कि आरोपित पर कार्रवाई हो रही है। इसके बावजूद वह चिल्लाने लगा। यहां तक कि गाली गलौज भी करने लगा। इसके बाद सिटी एसपी ने उसे एक झापड़ दे दिया। पीड़िता के भाई का कहना है कि पुलिस स्वामी से मिलकर मामले को दबाने की कोशिश कर रही है। इसी बात को लेकर पीड़िता के भाई सिटी एसपी व डीएसपी से तुम-ताम करते हुए चिल्लाने लगा।

आरोपित के पक्ष में खड़ी है पुलिस

पीड़िता के भाई पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस आरोपी की जी हजूरी में लगी हुई है। आरोपित स्वामी को पुलिस द्वारा चाय-पानी कराया जा रहा है। जबकि हमलोगों को पुलिस ने पूछा तक नहीं। उसने कहा कि पुलिस द्वारा मुझे धमकाया जा रहा है। उसने बताया कि सुजीत महाराज ने मुझे भी पैसे का प्रलोभन दिया और मामले को दबा देने की बात कही। जब हम नहीं माने तो उन्होंने जान से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता का कहना है कि पुलिस ने सादे कागज में मेरा दस्तखत कराया। वह काफी भयभीत थी। पूर्व छात्रा ने जताया स्वामी पर भरोसा

भारत सेवाश्रम संघ जमशेदपुर सोनारी शाखा की पूर्व छात्रा धनबाद निवासी प्याली सेन ने सुजीत महाराज पर भरोसा जताते हुए कहा कि स्वामी को षड्यंत्र के तहत फंसाने की कोशिश की जा रही है। जानकारी मिलने के बाद गुरुवार को सोनारी थाना पहुंची थी। उसका कहना था कि बाबा निर्दोष है और उनके लिए जहा तक लड़ने की जरूरत पड़ेगी वहा तक कानूनी लड़ाई लड़ी जाएगी।

-------

भारत सेवाश्रम संघ के स्वामी पर पर 15 वर्षीय नाबालिग द्वारा दुष्कर्म करने का आरोप लगाया गया है। यह मामला काफी गंभीर है। बाबा के विरुद्ध थाने में पोक्सो एक्ट के तहत दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। स्वामी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस सभी बिंदुओं की गहनता से जाच कर रही है। मेडिकल जांच कराई गयी है, शुक्रवार को कोर्ट में 164 के तहत बयान कराया जाएगा।

- प्रभात कुमार, सिटी एसपी, जमशेदपुर

--

आरोपित सुजीत महाराज भारत सेवाश्रम संघ से बर्खास्त आरोपित सुजीत महाराज को भारत सेवाश्रम संघ से बर्खास्त कर दिया गया है। भारत सेवाश्रम संघ के कोलकाता स्थित मुख्यालय से मिले निर्देश के बाद बर्खास्तगी की यह कार्रवाई की गई है। इस संबंध में सोनारी स्थित भारत सेवाश्रम संघ के सहायक सचिव की ओर से उपायुक्त, वरीय पुलिस अधीक्षक व पुलिस अधीक्षक को लिखित रूप से इस कार्रवाई के बारे सूचना दी गई है। इसमें कहा गया है कि संघ की जमशेदपुर शाखा के एक संन्यासी सुजीत महाराज के विरुद्ध एक आरोप है, जिसकी छानबीन सरकारी विधि-व्यवस्था के तहत चल रही है। उम्मीद है कि देश के कानून-व्यवस्था के तहत दोषी व्यक्ति को सजा मिलेगी व निर्दोष को बाइज्जत बरी किया जाएगा। कानूनी कार्रवाई व छानबीन में बाधा न हो इसलिए भारत सेवाश्रम संघ के मुख्यालय के निर्देशानुसार तत्काल प्रभाव से सुजीत महाराज को संघ से बर्खास्त किया जाता है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021