जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : परसुडीह थाना अंतर्गत सलगाझरी निवासी डोमा मार्डी के घर में अचानक आग लग गई। आग लगने से घर के सामान के साथ ही डोमा मार्डी की 35 वर्षीय पत्नी करना मार्डी भी आग की चपेट में आ गई। इससे करना मार्डी की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर परसुडीह पुलिस पहुंची। घटना के संबंध में पुलिस ने बताया कि सोमवार की दोपहर करीब एक बजे डोमा मार्डी काम पर गया था, जबकि बच्चे स्कूल गए थे। महिला करना मार्डी आंगन में नहाने के बाद कपड़ा सुखा कर केवल पेटीकोट पहने कमरे के अंदर गई। पुलिस ने संभावना जताई है कि करना मार्डी अंदर में संभवत: कपड़ा पहनने के क्रम में बिजली के तार से सट गई। जिससे शॉट सर्किट होकर घर में आग लग गई। आग बुझाने के क्रम में महिला भी करंट के चपेट में आ गई। जिससे करना मार्डी की मौत हो गयी। घटना के संबंध में मृतका का पति डोमा मार्डी ने भी आशंका जताई है कि करंट के चपेट में आने से मेरी पत्‍‌नी जल गयी। घर में आग लगने से सारा सामान भी जल गया। फिलहाल पुलिस मामले को संदिग्ध मौत मानते हुए जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

--

दहेज के लिए महिला को जलाने का प्रयास, भागते-भागते पहुंची मायके

जासं, जमशेदपुर : कापाली निवासी मो. नूरजमा ने सोमवार को अपनी पत्नी रेहाना परवीन को जलाकर मारने का प्रयास किया। पत्नी भागते-भागते मायके पहुंची। इसके बाद उसे एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। रेहाना की बहन गुड्डी ने बताया कि तीन माह पूर्व ही उसकी छोटी बहन की शादी हुई है। शादी के वक्त दहेज में उसे स्कूटी गाड़ी, गहना सहित अन्य समाग्री दिए गए थे। उसके बावजूद भी सास (हसीना बेगम) व पति ने दहेज के रूप में एक लाख रुपये व 32 इंच का टीवी मांग रहे थे। इसे लेकर पति व सास हमेशा रेहाना को मारते-पीटते थे। सोमवार की शाम को भी उससे दहेज मांगने के लिए कहा जा रहा था। इस पर जब रेहाना मांगने से इंकार कर दी तो उसके शरीर पर किरासन तेल डालकर जलाने का प्रयास किया गया। इस दौरान रेहाना जैसे-तैसे भागते-भागते अपने मायके पहुंची। रेहाना की मायके भी उसी बस्ती में है।

--

Posted By: Jagran