जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : मानगो थाने से महज 100 कदम की दूरी पर चार अपराधियों ने बुधवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेता मुजाहिद सइद खान पर फायरिग कर दी। हालांकि, अपराधियों के तीन राउंड फायर करने के बावजूद गोली उन्हें नहीं लगी, लेकिन इस घटना ने पुलिस की सक्रियता पर बड़े सवाल खड़े कर दिए। ऐसा इसलिए, क्योंकि फायरिग के पहले ही, जब अपराधियों के साथ मुजाहिद की बकझक हो रही थी, तभी उन्होंने (मुजाहिद ने) कई बार मानगो थाना प्रभारी को फोन कर घटना की जानकारी दी और पुलिस टीम को घटनास्थल पर भेजने को कहा, लेकिन पुलिस की लापरवाही का आलम यह था कि कई बार सूचना देने के बावजूद पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची। इसलिए, अपराधियों ने फायरिग करने का दुस्साहस किया। हद तो तब हो गई जब गोली चलाने के बाद जुटी भीड़ के सामने ही अपराधी पिस्तौल लहराते हुए भागने लगे। इसी बीच दो अपराधियों ने एक राहगीर (आजादनगर रोड नंबर-10 निवासी वृद्ध हासिम) को पिस्तौल की बट से मार कर घायल कर दिया और उससे स्कूटी छीन कर उसी स्कूटी पर सवार हो फरार हो गए। बाकी के दो भीड़ को पिस्तौल का भय दिखा भाग गए। फायरिग की यह घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।

--

कुसर् पर बैठने से मना करने पर हुआ विवाद

घटना बुधवार की दोपहर के करीब दो बजे की है। मानगो रोड नंबर चार निवासी मुजाहिद पेशे से बिल्डर हैं और झामुमो से भी जुड़े हैं। अक्सर वे मानगो रोड नंबर दो स्थित झामुमो कार्यालय में जाकर बैठा करते थे। बुधवार को इसी झामुमो कार्यालय के बाहर बैठने को लेकर शुरू हुआ विवाद फायरिग तक जा पहुंचा। दरअसल, रोज की तरह बुधवार को भी दोपहर में मुजाहिद झामुमो कार्यालय पहुंचे। पहुंचने पर देखा कि कार्यालय के निचले तल्ले पर रखी गई कुर्सियों में चार अज्ञात युवक बैठे हुए हैं। मुजाहिद ने उन सभी को कुर्सी से उठने को कहा। इससे वे लोग उत्तेजित हो गए और गाली-गलौज करने लगे। मामला बढ़ता देख मुजाहिद ने मानगो थाना प्रभारी को फोन कर इसकी जानकारी दी और पुलिस टीम भेजने को कहा, लेकिन पुलिस नहीं पहुंची।

--

पुलिस बुलाने पर उत्तेजित हुए अपराधी

मुजाहिद के पुलिस को बुलाने की बात सुनते ही चारों अपराधी उत्तेजित हो उठे। हालांकि वे इसके बाद कुर्सी से उठकर रोड नंबर चार की ओर जाने लगे। इसपर मुजाहिद ने उनका कुछ दूरी तक पीछा किया। पीछा करते मुजाहिद अपने आवास तक जा पहुंचे और वहां रुक गए। इतने में चारों में से एक (नाटे कद का टोपी पहने युवक) ने अचानक मुजाहिद को निशाने पर ले तीन राउंड गोली चला दी। हालांकि गोली नहीं लगी और मुजाहिद ने शोर मचाना शुरु कर दिया। लोग जमा होने लगे। इसपर दो अपराधी स्कूटी से और दो पैदल ही भाग निकले।

--

लोगा ं ने घेरा तो पिस्तौल लहराने लगे अपराधी

घटना के बाद अपराधियों को पकड़ने के लिए क्षेत्र के दुकानदार एकजुट हो गए। यह देख लूटी गई स्कूटी के पीछे बैठा अपराधी पिस्तौल लहराने लगा। गोली मारने की धमकी देने लगा। उसने हवाई फायरिग भी कर दी। पैदल भाग रहे दो अपराधियों ने भीड़ को अपनी ओर आता देख पिस्तौल निकाल लिया। गोली मारने की धमकी देते हुए वे भी भाग निकले।

--

सीसीटीवी फुटेज से अपराधियों की पहचान, फायरिग में कलीम गैंग के गुर्गे

मानगो में झामुमो नेता पर हुई फायरिग के मामले में सीसीटीवी फुटेज से एक अपराधी की पहचान कर ली गई है। फुटेज में दिख रहा अपराधी मो. कलीम है और वह आदित्यपुर मुस्लिम बस्ती का रहने वाला है। लंबे समय तक वह आजादनगर और मानगो में सक्रिय रहा है। केबल संचालक मोहन सिंह की हत्या समेत कई मामलों में वह शामिल रहा है। मानगो पुलिस ने अब उसकी गिरफ्तारी को आदित्यपुर थाना प्रभारी से सहयोग मांगा है। सीसीटीवी फुटेज में कैद तस्वीर भी प्रभारी को भेजी गई है।

---

फायरिग मामले में सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। इस फायरिग के पीछे जमीन का विवाद होने की बात सामने आ रही है। हालांकि मुजाहिद बार-बार यह बयां कर रहा कि वह कभी जमीन की खरीद-बिक्री के धंधे में शामिल नहीं रहा है।

- प्रभात कुमार, सिटी एसपी, जमशेदपुर।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस