जमशेदपुर, अन्‍वेष अम्‍बष्‍ठ।  लौहनगरी के अपराधी भी हाईटेक हो रहे हैं। यहां के अपराधियों ने वाट्सएप ग्रुप बना रखा है। इसके जरिए वेे आपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं। जानकारी के अनुसार विशेष वाट्सएप ग्रुप से जुड़े अपराधी घटना को अंजाम देने के लिए निर्देश देने, ग्रुप से जुड़े सदस्य को किसी विशेष जगह बुलाने, टारगेट की तस्वीर शेयर करने आदि में इस मैसेजिंग प्लेटफार्म का धड़ल्ले प्रयोग कर रहे हैं। वैसे मानगो, आजादनगर, एमजीएम व अन्य थाने की पुलिस इन पर विशेष नजर रख रही है। 

मर्दाना ग्रुप की है दहशत 

जमशेदपुर में इन दिनों गैंग्स आफ वासेपुर, टंकी ब्वायज और मर्दाना ग्रुप की काफी चर्चा है। इन ग्रुप के युवक ताबड़तोड़ आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। मर्दाना ग्रुप की धतकीडीह और शास्त्रीनगर में खास दहशत है। कुछ दिन पहले इस ग्रुप ने धतकीडीह में सलमान नाम के युवक को पीटा था। उसने एफआइआर दर्ज कराई, तो ग्रुप के सदस्यों ने दो बार उसके घर पर चढ़ कर उसकी पिटाई की थी। अपराधियों ने ललकार कर कहा था कि जो भी मर्दाना ग्रुप के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराएगा उसका यही अंजाम होगा। 

कई थानों में दर्ज हैं इन पर प्राथमिकी 

2017 में साकची में निरंजन सिंह की हत्या में बादशाह ग्रुप के सदस्यों पर प्राथमिकी दर्ज हुई थी। वाट्सएप ग्रुप बना कर अपराध करने वाले युवकों के खिलाफ इसी महीने दो थानों में चार प्राथमिकी दर्ज हो चुकी हैं। ये प्राथमिकी बिष्टुपुर और गोलमुरी में दर्ज हुई हैं। इनमें धतकीडीह, शास्त्रीनगर, गोलमुरी और भालूबासा के युवकों पर मुकदमे दर्ज हुए हैं। लेकिन, पुलिस द्वारा इनके साथ रियायत बरतने से इन अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। 

जमशेदपुर में अपराधियों के कुछ वाट्सएप ग्रुप  

  •  गैंग्स आफ वासेपुर  
  •  मर्दाना  
  •  टंकी ब्वायज 
  •  बादशाह ग्रुप

केस स्टडी  

केस 01 

एक दिसंबर को धतकीडीह 'एÓ ब्लॉक निवासी जुस्को के वेंडर मजहर पर 10-15 युवकों ने हमला किया। मजहर का कुछ देर पहले ही धतकीडीह कम्युनिटी सेंटर के पास वहीं नशा कर रहे एक युवक से झगड़ा हुआ था। मजहर ने बताया कि युवक ने उसे धमकी दी थी, 'रुको, वाट्सएप पर मैसेज चला कर लोगों को बुलाते हैं।Ó इसके बाद उसने मैसेज चलाया और थोड़ी ही देर में भालूबासा, मानगो और शास्त्रीनगर से 10-12 युवक वहां जमा हो गए और इन लोगों ने मजहर को रॉड और लाठी-डंडे से पीट कर घायल कर दिया था। 

केस 02  

गोलमुरी, भालूबासा और मानगो के कुछ युवकों ने 'गैंग्स आफ वासेपुरÓ वाट्सएप ग्रुप बनाया है। इस ग्रुप के युवकों ने 12 दिसंबर की रात गोलमुरी में मशीर नाम के युवक को घेर कर हवाई फायङ्क्षरग की थी। इससे गोलमुरी मुुस्लिम बस्ती में दहशत फैल गई थी। 

ये कहते डीएसपी

वाट्सएप ग्रुप बनाकर अपराध करने वाले युवकों पर पुलिस निगाह रख रख रही है। आजाद नगर, एमजीएम समेत अन्य थाना क्षेत्रों में ऐसे तत्वों पर निगाह रखी जा रही है। इन पर जल्द ही कार्रवाई होगी।

- विजय महतो, पुलिस उपाधीक्षक, जमशेदपुर। 

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस