जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। क्रिकेटर सौरभ तिवारी ने कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही लड़ाई के लिए शनिवार को डेढ़ लाख रुपये का चेक दिया।

पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला को सौरभ ने एक लाख रुपये का चेक प्रधानमंत्री राहत कोष और 50 हजार रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए सौंपा। उपायुक्त ने कहा कि सौरभ तिवारी ने जिस तरह स्वेच्छा से पहल की है, वह अनुकरणीय है। शहर के अन्य लोगों से भी उम्मीद है कि कोरोना से लड़ाई में राहत राशि सरकार को भेंट करेंगे। 

हर कोई आगे बढ़कर करे सहयोग : सौरभ तिवारी

इस मौके पर सौरभ तिवारी ने कहा कि देश विषम परिस्थिति से जूझ रहा है। ऐसी स्थिति में हर एक व्यक्ति का कर्तव्य बन जाता है कि वह देश और राज्य के लिए अपनी क्षमता के मुताबिक दान करे। कोरोना वायरस के फैलने से पुरी दुनिया संकट में है।

इसीलिए कोरोना वायरस से बचाव के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में और प्रधानमंत्री राहत कोष में दान देेने का फैसला किया। मालूम हो कि इससे पहले केरल में आई बाढ़ के समय भी सौरभ तिवारी ने राहत कोष में दान किया था।

केयू के शिक्षक मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे एक दिन का वेतन

कोरोना संकट से उबारने तथा किए जा रहे कार्यो के लिए यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालय के शिक्षकों से एक दिन का वेतन देने की अपील की है। इस अपील पर कोल्हान विश्वविद्यालय के शिक्षक भी एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे।

केयू की कुलपति प्रोफेसर डॉ. शुक्ला माहांती ने इस संबंध में कहा कि वे भी एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देगी। विश्वविद्यालय के शिक्षकों से भी उन्होंने यह अपील की है कि वे इस राष्ट्रीय आपदा में अपना एक दिन का वेतन दें।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस