जमशेदपुर, जासं। जमशेदपुर में कोरोना से जुड़ी कोई जानकारी चाहिए तो एक बार इंस्टाग्राम पर कोविड हेल्प जमशेदपुर सर्च कर सकते हैं। यह एकाउंट कई तरह की जानकारी देता है। इसे धतकीडीह स्थित जेएच तारापोर स्कूल के पूर्व छात्रों ने बनाया है। इसे उज्ज्वल आनंद, सौभाग्य दास, जूनी दास व श्वेता पांडेय संचालित कर रहे हैं।

ये सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम @covid_help_jamshedpur के माध्यम से जमशेदपुर से जुड़ी लगभग हर जानकारी दे रहे हैं। कोविड-19 से जुड़ी केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा दी जा रही सुविधा व सूचना तो पहुंचा ही रहे हैं, जिला प्रशासन की घोषणाओं के बारे में भी बता रहे हैं। टीम का दावा है कि लोगों के बीच इस एकाउंट की लोकप्रियता इस क़दर बढ़ी कि सिर्फ दो सप्ताह में दो लाख इम्प्रेशन व 1200 से ज्यादा फॉलोअर हो गए हैं। इसके साथ ही @covid_help_jamshedpur से संपर्क करने वाले क़रीब 1000 से ज़्यादा लोगों को जानकारी और करीब 250 लोगों को इन्होंने अपने संपर्क के माध्य्म से मदद उपलब्ध कराया है। इंस्टाग्राम में जमशेदपुर के जुड़े लोग इस एकाउंट से जुड़ी जानकारी शेयर भी कर रहे हैं। जिन लोगों को सहायता प्राप्त हो जाती है, वे इनका धन्यवाद भी करते हैं।

मेडिकल सहायता भी दे रही टीम

टीम के मुख्य सदस्य उज्ज्वल आनंद, जो लॉ की पढ़ाई कर रहे हैं, बताते हैं कि उनकी टीम केंद्र सरकार, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, राज्य सरकार, राज्य स्वास्थ्य मंत्रालय, पूर्वी सिंहभूम उपायुक्त व जमशेदपुर से प्रकाशित होने वाले प्रमुख अखबारों से जानकारी जुटाकर इस एकाउंट में शेयर कर उपलब्ध कराते हैं। लोगों को सही जानकारी उपलब्ध करा कर उनके समय के साथ-साथ लोगों को समय पर इलाज मिले, ये प्रयास किया जा रहा है। लोगों को अस्पताल के फोन नंबर, आइसीयू बेड, वेंटिलेटर व आक्सीजन बेड उपलब्धता की जानकारी के साथ-साथ जमशेदपुर में कार्य कर रही स्वेमसेवी संस्थाओं द्वारा उपलब्ध की जा रही निश्शुल्क सेवा जैसे भोजन, आक्सीजन सिलेंडर व फ्री एंबुलेंस की जानकारी के साथ-साथ उनसे संपर्क स्थापित कर जरूरतमंद लोगों से संपर्क कराया जा रहा है। यह कार्य इनकी टीम 24 घंटे कर रही है। साथ ही कोविड से रिकवर मरीजों को ट्रैक कर प्लाज्मा डोनेट करने के लिए उन्हें प्लाज्मा से जुड़ी हर जानकारी से अवगत करा रहे हैं। फेक न्यूज़, नक़ली दवाइयों की जानकारी भी इस एकाउंट से शेयर कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

निश्शुल्क टेली-काॅलिंग का लक्ष्य

इनकी टीम का अगला लक्ष्य है कि इनसे जुड़े जो मित्र फाइनल ईयर की मेडिकल पढ़ाई कर रहे हैं। उनकी सहायता से निश्शुल्क टेली-कॉलिंग की सुविधा प्रारंभ करना है। इसमें डिप्रेशन, स्वास्थ्य सुविधा, डायट कंसल्टेंसी के साथ एक्सरसाइज से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।

 

Edited By: Rakesh Ranjan