जमशेदपुर, जासं। विश्व के प्रभावित देशों में कोरोना संक्रमण का तीसरा वेब पहुंच चुका है इसलिए हम अपने संसाधनों को बेहतर करने में काम कर रहे हैं। इसके लिए साकची स्थित पुराना केरला समाजम मॉडल स्कूल (केएसएमएस) बिल्डिंग में 250 से 300 ऑक्सीजन बेड की तैयारी की जा रही है। यह कहना है टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) के स्वास्थ्य सलाहकार डा. राजन चौधरी का।

बकौल चौधरी, मंगलवार को मैंने खुद केएसएमएल जाकर वहां की स्थिति का जायजा लिया। हम वहां पर हर बेड तक पाइप लाइन द्वारा ऑक्सीजन पहुंचाने की व्यवस्था कर रहे हैं। इस अस्पताल को चलाने के लिए हमें सरकार की मदद से डाक्टर व नर्स की भी जरूरत पड़ेगी। क्योंकि हमारे पास सभी डाक्टर व पारा मेडिकल स्टाफ पूरी तरह से व्यस्त है। वहीं, उन्होंने बताया कि टीएमएच में आरएमए एक्सट्रैक्टर व आरटी-पीसीआर की एक-एक मशीन और मंगाई गई है ताकि मरीजों को समय पर कोविड टेस्ट रिपोर्ट दी जा सके। इसके अलावा टीएमएच में ऑक्सीजन सिलेंडर की क्षमता को बढ़ाने के लिए लिंडे कंपनी द्वारा 17 हजार लीटर का अतिरिक्त सिलेंडर लगाया जा रहा है जो कुछ दिनों में काम करना शुरू कर देगा। उन्होंने बताया कि पिछले चार दिनों में टीएमएच बेड की समस्या से जूझ रह है इसलिए जो मरीज निगेटिव हो जा रहे हैं उन्हें नॉन कोविड वार्ड में शिफ्ट कर उनका इलाज किया जा रहा है। डा. चौधरी ने एक बार फिर शहरवासियों से अपील की है कि तीसरे वेब से बचा जा सकता है। बशर्ते हम सभी कोविड नियमों का अक्षरश: पालन करें।

हर मरीज को रैमडेसिविर, सिटी स्कैन व वेंटीलेटर की जरूरत नहीं

डा. चौधरी ने बताया कि हर कोविड मरीज या उसके परिजन चाहते हैं कि उन्हें अस्पताल में तुरंत वेंटीलेटर मिल जाए। उनका सिटी स्कैन हो और रैमडेसिविर दवा मिले। लेकिन हर कोविड मरीज को इन सब की जरूरत नहीं। यदि मरीज का ऑक्सीजन लेवल लगातार गिर रहा है तभी उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है। यदि फेफडे में संक्रमण बढ़ रहा है तो रैमडेसिविर देना उपयुक्त होगा। आठवें या नवें दिन में यह देना ठीक नहीं।

एक मिनट पर पांच-छह किलो ही ले ऑक्सीजन

टीएमएच के स्वास्थ्य सलाहकार ने बताया कि जो मरीज घर पर ही रहकर अपना इलाज या ऑक्सीजन ले रहे हैं। वे एक मिनट पर पांच से छह किलोग्राम से ज्यादा ऑक्सीजन नहीं ले। साथ ही सभी को अपने घर पर ऑक्सी मीटर व थर्मामीटर रखने की भी सलाह दी ताकि नियमित रूप से अपनी जांच की जा सके। शरीर का ऑक्सीजन लेवल 94 से कम होने पर तत्काल नजदीकी अस्पताल पहुंचने की सलाह दी।

टीएमएच में हर किसी को मिलेगा निशुल्क वैक्सीन, आदेश का इंतजार

डा. चौधरी ने बताया कि टीएमएच में हर किसी को वैक्सीन मिले, इसकी भी तैयारी की जा रही है। इसके लिए राज्य सरकार से अनुमति मांगी गई है। यदि आदेश मिला तो टीएमएच को सरकारी सेंटर की तरह हर आम नागरिक को भी निशुल्क वैक्सीन मिलेगी। लेकिन तब वैक्सीन हम नहीं खरीदेंगे, राज्य सरकार हमें उपलब्ध कराएगी। वहीं, उन्होंने बताया कि मंगलवार को टीएमएच में वैक्सीन सेंटर बंद था। उन्होंने राज्य सरकार और जिला प्रशासन से वैक्सीन देने की मांग की है।

चार दिन में 74 की मौत, 60 वर्ष उम्र वाले 46 मरीज

टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) के स्वास्थ्य सलाहकार डा. राजन चौधरी ।

डा. चौधरी ने बताया कि पिछले चार दिनों में कोविड से 74 मरीजों की मौत हुई7 इसमें पूर्वी सिंहभूम के 63, सरायकेला-खरसावां के आठ, पश्चिम सिंहभूम के दो और रामगढ़ का एक मरीज शामिल है। उन्होंने बताया कि इस बार मरने वाले मरीजों का ट्रेंड बदला है। इस बार 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले 46 मरीज जबकि 40 से 60 वर्ष के बीच के 21 मरीजों की मौत हुई है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021