जमशेदपुर, जासं।  Coronavirus India Lockdown टाटा स्टील के वैसे कर्मचारी जो कैजुअल लीव लेकर छुट्टी या किसी के इलाज के लिए दूसरे राज्य गए थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण वहीं फंस गए है। ऐसे कर्मचारियों को टाटा स्टील प्रबंधन स्पेशल लीव देगी। टाटा वर्कर्स यूनियन नेतृत्व की पहल पर टाटा स्टील प्रबंधन ने इस संबंध में सर्कुलर जारी कर दिया है।

टाटा स्टील में ऐसे कई कर्मचारी हैं जो ड्यूटी से छुट्टी लेकर दूसरी राज्य, परिवार के साथ कहीं घूमने या पैतृक स्थान गए थे। लेकिन कोरोना वायरस के कारण जब बस व ट्रेन बंद हो गए और वे वहीं फंस गए है। ऐसे में उनकी छुट्टी भी समाप्त हो गई है। ऐसे कर्मचारियों की मदद के लिए कई कमेटी मेंबरों ने यूनियन नेतृत्व से गुहार लगाई। ऐसे में यूनियन नेताओं ने टाटा स्टील के वाइस प्रेसिडेंट, एचआरएम सुरेश दत्त त्रिपाठी से बात की, तो उन्होंने भी वस्तुस्थिति को समझते हुए आदेश जारी किया। ऐसे सभी कर्मचारी जो लॉकडाउन के कारण कहीं फंस गए है और ड्यूटी आने में असमर्थ हैं उन्हें टाटा स्टील प्रबंधन स्पेशल लीव देगी। लेकिन ऐसे कर्मचारी ड्यूटी पर लौटने के बाद अपने विभागीय एचआर से मिलकर उन्हें स्पेशल लीव लेने का प्रमाण देना होगा।

कैंटीन के बाद गेट पर भी शारीरिक दूरी के लिए किए गए उपाय 

 कोरोना वायरस से बचाव के लिए टाटा स्टील प्रबंधन ने कैंटीन में एक-एक मीटर की दूरी पर घेरा बना दिया है ताकि कर्मचारी शारीरिक दूरी बनाए रखे। कंपनी प्रबंधन ने ऐसी ही व्यवस्था अपने सभी इंट्री प्वाइंट पर भी की है। यहां सभी स्थायी व अस्थायी कर्मचारी इन पंच से पहले एक-दूसरे से एक-एक मीटर की दूरी पर खड़े होने की व्यवस्था की गई है।

क्वारंटाइन गए कर्मचारियों को भी स्पेशल लीव

टाटा स्टील के वैसे कर्मचारी जो दूसरे राज्य गए थे और किसी तरह से शहर पहुंचे चुके हैं लेकिन जिला प्रशासन के आदेश के बाद अपने घर पर ही क्वारंटाइन में है। ऐसे कर्मचारियों को भी कंपनी प्रबंधन स्पेशल लीव देगी।

ये कहते यूनियन अध्‍यक्ष

टाटा स्टील के कई कर्मचारी जो छुट्टी लेकर बाहर गए थे लेकिन लॉकडाउन के कारण वहीं, फंस गए है। यूनियन की पहल पर कंपनी प्रबंधन उन्हें स्पेशल लीव देगी।

-आर रवि प्रसाद, अध्यक्ष, टाटा वर्कर्स यूनियन

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस