जमशेदपुर, जासं। Coronavirus India Lockdown कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को घरों में दीया जलाने का किए गए आह्वान का अखबार वितरकों (कर्मयोगी) ने स्वागत किया है। कर्मयोगियों को अब उस पल का इंतजार है जब वे कोरोना वायरस से देश को मुक्त करने की मुहिम में का हिस्सा बन सकें। प्रधानमंत्री के इस आह्वान को अखबार के माध्यम से घर-घर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारे इन्हीं अखबार वितरक ने उठाई है। तभी तो ये देशहित में अपने कर्तव्य का पालन करते हुए तड़के अखबार लेकर पाठकों के दरवाजे पर दस्तक देंगे।

अखबार वितरक प्रवीर दास, दिलीप सिंह, देवा साहू व कमलेश साहू किसी कोरोना फाइटर से कम नहीं हैं। ये कोरोना के संक्रमण के बीच भी प्रतिदिन तड़के उठकर पाठकों को देश दुनिया की खबरों से अपडेट करा रहे हैं। पाठकों को भी अपने अखबार का इंतजार रहता है, ताकि दिन भर कोरोना को लेकर पूरे देश व अपने झारखंड में क्या चल रहा है, इसकी पूरी जानकारी वे अखबार को पढ़कर हासिल कर सकें। कई अखबार वितरकों को अब तक पाठकों द्वारा मिलने वाला मासिक शुल्क नहीं मिल पाया है।

पाठक को भी इसमें जागरूकता लाते हुए अपने अखबार वितरकों को उनके मासिक शुल्क का भुगतान करना चाहिए, ताकि अखबार वितरक भी अपने परिवार के चेहरों पर खुशी देख सकें। वर्षों से पाठकों व अखबार वितरक के बीच बने अटूट रिश्ते को इस कोरोना वायरस के संक्रमण ने भी टूटने नहीं दिया है। चाहे पाठकों से अखबार वितरकों की मुलाकात लॉक डाउन के दौरान नहीं हो रही है, लेकिन मोबाइल फोन ने पाठकों व अखबार वितरकों के बीच के रिश्तों को बनाए रखा है।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस