संसू, बहरागोड़ा : लॉक डाउन में गरीब असहाय व ट्रक चालकों के लिए भोजन बड़ी समस्या बन गया है। ऐसे में बहरागोड़ा पुलिस ने इनके बीच खिचड़ी का वितरण शुरू कर दिया है। थाना प्रभारी चंद्र शेखर कुमार के नेतृत्व में पुलिस बल घूम-घूमकर असहायों के बीच खिचड़ी का वितरण कर रही है। बेंदा हरिजन बस्ती में भी थाना परिवार की ओर से खिचड़ी का वितरण करने के साथ बनाबुडा में दो बुजुर्ग महिलाओं को पुलिस की ओर से साड़ी भी प्रदान की गई। शहर के समाजसेवियों ने आगे आकर पुलिस के इस नेक कार्य के लिए हरसंभव सहयोग करने का भरोसा दिया है। इस अभियान में एसआई रामदयाल उरांव, टिकू कुमार, समाजसेवी दीपेन मन्ना प्रमुख मौजूद थे।

घाटशिला में ओपी प्रभारी ने बांटे खिचड़ी के पैकेट

मउभंडार गुरुद्वारा कमेटी के सहयोग से शनिवार को ओपी प्रभारी उमाकांत तिवारी ने कीताडीह इंदिरा कॉलोनी में जाकर वहां के लोगों को 50 पैकेट खिचड़ी का वितरण किया। लोगों को घरों में रहने को कहा गया तथा सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने को प्रेरित किया। मौके पर एसआई कुमार सौरव, समाजसेवी कालीराम शर्मा मौजूद रहे। गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान हरबचन सिंह ने बताया कि गुरुद्वारा में लंगर की व्यवस्था की गई थी पर भीड़ भाड़ होने के खतरे को देखते हुए तैयार 50 पैकेट भोजन पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस उसे जरूरतमंद एवं चौक चौराहे पर भूखे प्यासे लोगों को प्रदान किया। बताया कि कमेटी के द्वारा निर्णय लिया गया है कि प्रत्येक दिन यह व्यवस्था की जाए।

झामुमो नेता की पहल पर मिला चावल

कोरोना को लेकर घोषित लॉकडाउन में दिहाड़ी मजदूरों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। जोड़िशा गांव के दीपक दास का परिवार पिछले तीन माह से जनवितरण प्रणाली के राशन से वंचित है। पत्नी विमला दास के नाम से अंत्योदय कार्ड बना है। जिन्हें बड़बिल के कुंभकार महिला समिति के वहां से अनाज मिलना है। लेकिन सूची से नाम डिलीट होने के कारण उसे राशन नहीं मिल पा रहा है। इसकी सूचना मिलने पर झामुमो नेता मुकेश मंडल की पहल पर मुखिया मंगल सिंह ने दीपक दास के घर पहुंच कर आपदा के तहत 10 किलोग्राम चावल प्रदान किया। बीडीओ ने मुखिया को आश्वस्त किया है कि जरूरत पड़ने पर पंचायत से दोबारा चावल उपलब्ध करवाया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस