जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। कोविड 19 के कारण टाटा वर्कर्स यूनियन में अब पहली कमेटी मीटिंग जिला प्रशासन की अनुमति के बाद ही होगी। यूनियन नेतृत्व की ओर से इस संबंध में जिला प्रशासन से पत्राचार किया गया है। टाटा वर्कर्स यूनियन की नई कार्यकारिणी के लिए पहली फरवरी 2021 को चुनाव हुआ था लेकिन कोविड 19 के कारण छह माह बीतने के बाद भी अब तक कमेटी मीटिंग नहीं हुई है।

हालांकि कई कमेटी मेंबरों ने ज्ञापन सौंपकर कमेटी मीटिंग जल्द आयोजित करने की मांग की थी। लेकिन समस्या ये है कि वर्तमान में 50 लोगों के एक साथ किसी आयोजन में शामिल होने की अनुमति प्रशासन की ओर से थी। यूनियन नेतृत्व को उम्मीद है कि लॉकडाउन में ढ़ील देने के बाद 50 की संख्या को बढ़ाकर 100 होगी तो उम्मीद है कि प्रशासन से कमेटी मीटिंग की अनुमति मिले। इसलिए यूनियन नेतृत्व ने स्पष्ट कर दिया है कि बिना प्रशासनिक अनुमति के कमेटी मीटिंग आयोजित नहीं की जाएगी। हालांकि माइकल जॉन सभागार की क्षमता 500 से अधिक है।

Edited By: Rakesh Ranjan