जमशेदपुर, जेएनएन। Cold Increase due to rain in Kolhan of Jharkhand लगातार दूसरे दिन कड़ाके की ठंड के बीच बारिश से पूरे कोल्हान का जनजीवन प्रभावित हुआ है। पश्चिम सिंहभूम जिले के मनोहरपुर में तो सड़कें जलमग्न हो गई हैं। जमशेदपुर में भी सुबह से बारिश हो रही है। मौसम के बिगड़े मिजाज के बीच  बूंदाबांदी और हल्की हवाओं से कनकनी बढ़ गई है। 

दरअसल,  मौसम का मिजाज गुरुवार की शाम से ही बदलने लगा था। रात से ठंडी हवाएं चलनी शुरू हो गई थीं, जिसका असर शुक्रवार को सुबह देखने को मिला। सुबह से आसमान में बादल छाए हुए थे। कहीं-कहीं हल्का कोहरा भी था। सुबह से शाम तक एक बार भी धूप नहीं निकली। सुबह दस बजते-बजते बंदाबांदी शुरू हो गई, जो शाम तक रूक-रूक कर जारी रही। हालांकि मौसम विभाग ने जमशेदपुर में 0.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज किया है, लेकिन दिन भर हुई टिपटिप बारिश के साथ ठंडी हवाओं (शीतलहरी) से एक बार फिर कनकनी लौट आई। शनिवार को भी यही स्थिति है। 

न्‍यूनतम तापमान में होगी और गिरावट

मौसम विभाग की मानें तो अगले दो दिन तक मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहेगा, बल्कि न्यूनतम तापमान में दो से चार डिग्री तक गिरावट हो सकती है। वहीं अधिकतम तापमान में नौ डिग्री तक कमी हो सकती है।  मौसम बदलने का असर सड़क पर भी देखा जा रहा है। वाहनों की आवाजाही सामान्य दिनों की तुलना में कम है।  वेलेंटाइन वीक  के बावजूद पार्कों में प्रेमी युगल कम पहुंचे, जबकि मॉल व रेस्टोरेंट में अपेक्षाकृत ज्यादा भीड़ र रही है।  

घाटशिला में भी रिमझिमब बारिश, गांव में अलाव का सहारा

पूर्वी सिंहभूम के घाटशिला अनुमंडल इलाके में भी  आसमान में बादल छाए हैं  और मौसम में नमी है। । रिमझिम बारिश शुक्रवार से ही हो रही है  जिसके कारण शीतलहरी का असर देखने को मिल रहा है। दारीसाई कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से उठे मानसून का असर क्षेत्र में देखा जा रहा है। हालांकि झारखंड में इसका बहुत ज्यादा असर नहीं दिखेगा। झारखंड के सीमांकन क्षेत्र होने के कारण मौसम में थोड़ा परिवर्तन देखा जा रहा है। लेकिन वह ज्यादा दिन नहीं रहेगा। बंगाल में इसका असर रहेगा। वहां बारिश की संभावना है। रविवार तक मौसम में थोड़ा परिवर्तन होगा।। 

मौसम की स्थिति 

दिनांक        वर्षा          अधिकतम तापमान         न्यूनतम तापमान 

  • 9 फरवरी      4 मिली          20 डिग्री सेल्सियस        14 डिग्री सेल्सियस 
  • 10 फरवरी      0              22 डिग्री सेल्सियस       12 डिग्री सेल्सियस
  • 11 फरवरी      0              24 डिग्री सेल्सियस        11 डिग्री सेल्सियस
  • 12 फरवरी     0               24 डिग्री सेल्सियस        11 डिग्री सेल्सियस

पश्चिमी सिंहभूम में भी लौटी ठंड

घाटशिला इलाके में छाता लेकर स्‍कूल जाते बच्‍चे। 

पश्चिमी सिंहभूम में भी ठंड वापस लौट गई है।  गुरुवार शाम से ही आसमान में बादल छाने के साथ बूंदा-बांदी शुरू हो चुकी थी। शुक्रवार दिन भर बूंदा-बांदी जारी रही। शनिवार को भी यही स्थिति रही।  चाईबासा का न्यूनतम तापमान 11 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 22 डिग्री के करीब रहा। कृषि विभाग के तापस कुमार ने कहा कि फरवरी में अक्सर मौसम साफ रहता है। गर्मी का और हल्का ठंड का एहसास रहता है लेकिन फरवरी के पहले सप्ताह में ही मौसम ने करवट बदलते हुए बारिश की आशंका बना दी है। अगले एक सप्ताह तक मौसम इसी प्रकार बना रहने का अनुमान लगाया जा रहा है।

आसमान साफ होने के बाद और बढ़ेगी ठंड

घाटशिला के ग्रामीण इलाके ठंड से बचने को अलाव तापती महिलाएं। 

आसमान खुलने के बाद रात में थोड़ी ठंड भी बढ़ेगी। रविवार और सोमवार तक न्यूनतम तापमान 8 से 9 डिग्री रहने का अनुमान है। जबकि अधिकतम तापमान में भी वृद्धि होगी और यह 28 से 29 डिग्री के बीच रहेगा। इसके बाद मौसम खुलने और सामान्य तापमान रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि बारिश होने से सब्जी की खेती को थोड़ा नुकसान हो सकता है, लेकिन गेंहूं के खेती के लिए फायदेमंद रहेगा। खलिहान में धान रखने वाले लोगों को परेशानी होगी, क्योंकि कटे हुए धान में पानी लगने से धान खराब भी हो सकता है।

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस