जमशेदपुर(जेएनएन)। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि विपक्षी गठबंधन ठगबंधन है। इससे भाजपा को कोई फर्क नहीं पड़नेवाला है। वे गुरुवार को जमशेदपुर के सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी योजना वर्ष 2020 तक जमशेदपुर के 27 हजार बेघरों को घर देना है और इस दिशा में काम शुरू हो गया है। शहर में अब कोई बेघर नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि रांची में 29-30 नवंबर को वैश्विक एग्रीकल्चरल फूड समीट का आयोजन हो रहा है। इसमें भागीदारी के लिए 10 हजार किसानों ने पंजीकरण कराया है। इसमें आठ राज्यों से किसान शामिल होंगे। इसके अलावा चार देशों से भी किसान भाग लेंगे।

छठ पूजा की तैयारी का लिया जायजा

इससे पूर्व मुख्यमंत्री सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर कमेटी के तत्वावधान में हर साल भव्य रूप से आयोजित होनेवाली छठ पूजा की तैयारियों को लेकर बैठक में श‍ामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कमेटी के सदस्यों संग सोन मंडप में बैठक की। सूप व फल वितरण से लेकर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की तैयारियों की समीक्षा की और जिम्मेदारियां बांटी। छठ पर सूर्य मंदिर परिसर में बालीवुड के पार्श्व गायक सुरेश वाडेकर कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। इस मौके पर मुख्यमंत्री के साथ भाजपा कार्यकर्ता चंद्रशेखर मिश्रा, भूपेंद्र सिंह, गुंजन यादव, कमलेश सिंह आदि थे।

मुंडा के घर गए रघुवर

 मुख्यमंत्री रघुवर दास बुधवार को टेल्को के घोड़ाबांधा स्थित पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा के घर गए, जहां दोनों ने एक-दूसरे को दीपावली की बधाई दी। मुख्यमंत्री ने अर्जुन मुंडा की पत्नी मीरा मुंडा को भी दीपावली की शुभकामना दी, तो मुंडा जी की माता सायरा मुंडा का पैर छूकर आशीर्वाद लिया।

तार कंपनी तालाब का निरीक्षण

 इससे पहले मुख्यमंत्री एग्रिको स्थित आवास से निकल कर तार कंपनी के पास रुके और वहां के तालाब का निरीक्षण किया। पिछली बार उन्होंने तालाब की सफाई करने का निर्देश दिया था। मुख्यमंत्री जब तालाब के पास गए तो देखा कि सफाई हो रही थी। उन्होंने सफाई कर्मचारियों को कुछ निर्देश भी दिया। इस तालाब में आसपास के काफी श्रद्धालु छठ करते हैं। यहीं से वे पास के इंद्रानगर गुरुद्वारा भी गए और मत्था टेका। 

पत्नी संग की पूजा

बुधवार की रात मुख्‍यमंत्री ने पत्नी संग दीपावली पर मां लक्ष्‍मी की पूजा-अर्चना भी की। उन्होंने अपने आवास पर लोगों से मुलाकात की और दीपावली की शुभकामनाएं दी। 

Posted By: Rakesh Ranjan