जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। पूर्वी सिंहभूम जिले के घाटशिला उपकारा की दो महिला बंदी चटनी डॉन उर्फ प्रिया सिंह और श्वेता दास उर्फ बुलेट रानी ने खुदकुशी का प्रयास किया। श्वेता दास ने ब्लेड से गला में कई जगह-जगह पर जख्म कर लिया तो प्रिया सिंह ने कांच निगल लिया जिससे कुछ समय के लिए उपकारा में अफरा-तफरी मची रही। जेल प्रशासन ने दोनों महिला बंदियों को घाटशिला अनुमंडल अस्पताल भेजा। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को एमजीएम अस्पताल रेफर कर दिया गया।

श्वेता सिंह ने बताया कि उसके गले में 17 टांके लगे हैं। दोनों ने इससे पहले घाटशिला अस्पताल में बताया कि उपकारा के पूर्व जेलर मुस्तकीम ने घाटशिला जेल से घाघीडीह सेंट्रल जेल भेजने को 45 हजार रुपये लिए थे, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। गौरतलब है कि जेलर का एक सप्ताह पहले ही तबादला दूसरे जेल में हो गया है। प्रिया सिंह की मां बेबी सिंह ने बताया कि उनकी बेटी रंगदारी के एक मामले में घाघीडीह जेल में बंद थी। दो माह पहले प्रिया सिंह, श्वेता दास, सोनी, दुर्गावती, दुर्गा समेत छह महिला बंदियों को घाघीडीह सेंट्रल जेल से यह कहते हुए घाटशिला उपकारा भेजा गया था कि डेढ़ माह बाद वापस सेंट्रल जेल बुला लिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। आश्वासन दिया जाता रहा। सेंट्रल जेल भेजने को घाटशिला उपकारा में 12 दिन तक अनशन पर बैठ गई थी। उपकारा में में काफी गंदगी है। सफाई नहीं होती है। काफी अव्यवस्था है। बावजूद सेंट्रल जेल के अधीक्षक ने कहा कि वे कुछ नहीं कर सकते। श्वेता दास ने कहा कि 45 दिन के बदले दो माह बीत गए। परेशान होकर खुदकुशी करने का प्रयास किया। एमजीएम अस्पताल में पुलिस अभिरक्षा में दोनों दाखिल है। चटनी डॉन रंगदारी तो श्वेता पति की हत्या के आरोप में जेल में

चटनी डॉन उर्फ प्रिया सिंह सोनारी थाना क्षेत्र ग्वाला बस्ती की रहने वाली है। उसे सोनारी थाना की पुलिस ने रंगदारी मांगने के आरोप में विगत 24 फरवरी को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। उसके खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज है। इससे पहले विगत आठ फरवरी को थाना में उसने ब्लेड से काटकर खुदकुशी का प्रयास किया था। पुलिस काफी परेशान रही थी। उसे छोड़ दिया गया था। वहीं गोविंदपुर थाना क्षेत्र शमसेर टावर में जमीन कारोबारी तपन दास की जनवरी 2019 में हत्या कर दी गई थी। हत्या में उसकी पत्नी श्वेता दास, पत्नी के प्रेमिका सुमित सिंह समेत अन्य की संलिप्तता सामने आई थी। श्वेता दास पति के हत्या के आरोप में घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद है। हत्या से पहले इंटरनेट मीडिया पर वह बुलेट रानी के रूप में जानी जाती थी। श्वेता दास पति के हत्या के आरोप में घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद है। हत्या से पहले इंटरनेट मीडिया पर वह बुलेट रानी के रूप में जानी जाती थी

Edited By: Rakesh Ranjan