जगन्नाथपुर : बड़ा भाई कर रहा था रेलवे फाटक में नाइट ड्यूटी और छोटे भाई ने गेट के लगभग आधा किलोमीटर दूर जाकर  मालगाड़ी से कटकर आत्महत्या कर ली। घटना जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के तोडांगहातु गांव स्थित रेलवे फाटक व मालुका रेलवे स्टेशन के बीच की है। एक 25 वर्षीय युवक ने मालगाड़ी से कट कर बीते बुधवार की रात लगभग 9 बजे आत्महत्या कर ली है। मृतक युवक तोडांगहातु पंचायत के तेंतोड़ीपोसी गांव का रहने वाला था। युवक का नाम शिरिश गोप है। मृतक का बड़ाभाई रेलकर्मी (गेटमेन) संजीत गोप है। बीते बुधवार की रात वह रेलवे फाटक तोडांगहातु में नाइट ड्यूटी कर रहा था। तभी उसका छोटा भाई शिरिश गोप तोडांगहातु गांव की तरफ से पैदल रेलवे फाटक की तरफ आया तो उसने अपने छोटाभाई को कहा कि रात में कहा घूम रहे हो, घर जाओ।

तो शिरिश गोप ने कहा कि वह घर नहीं जायेगा और आत्महत्या कर लेगा। बड़े भाई ने उसे काफी समझाया तो वह फाटक से आगे निकल घर जाने के लिए निकल गया। थोड़ी देर बाद छोटा भाई फिर वापस आया और फाटक के समीप बैठ गया। गेटमेन भाई ने कहा घर जाओ तो वह मालुका स्टेशन तरफ जाने वाले रास्ते पर थर्ड लाइन के किनारे किनारे आगे निकल गया। फिर गेटमेन भाई संजित गोप अपने छोटे भाई को रेलवे लाइन किनारे खोजने की गया पर वह नहीं मिला। गुरुवार सुबह ग्रामीणों ने थर्ड लाईन किनारे एक युवक की लाश देखी तो गेटमेन व अन्य को सूचना दी गई। उसके बाद जगन्नाथपुर पुलिस और आरपीएफ डांगोवापोसी को सूचना हुई फिर गेटमेन संजित गोप ने लाश की पहचान अपने भाई शिरिश गोप के रूप में की। पुलिस ने शव का पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। वहीं, शिरिश गोप के आत्महत्या के कारणों का पता चलाने में पुलिस जुट गई है।

Edited By: Sanam Singh