जमशेदपुर : अगर आप बिजनेस करना चाह रहे हैं तो यह बढ़िया मौका है। इसमें ज्यादा पूंजी की भी जरूरत नहीं पड़ेगी बल्कि मात्र दस हजार रुपये में बिजनेस शुरु कर सकते हैं और कमाई भी अच्छी होगी। इसके माध्यम से कम से कम आप हर माह 50 हजार रुपये की कमाई कर सकते हैं। जमशेदपुर की बात करें तो यहां एक लाख से अधिक सिर्फ बाइक हैं। सभी में प्रदूषण सर्टिफिकेट की जरूरत होती है।

Pollution Testing Center का बाजार बढ़ा

दरअसल, केंद्र सरकार की तरफ से मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicles Act) लागू किया गया है। तभी से देश में प्रदूषण जांच केंद्र ( Pollution Testing Center) का बिजनेस काफी जोर पकड़ा है। कारण कि नए कानून में मोटे जुर्माने का सख्त निर्देश है। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे में हर कोई अपने-अपने गाड़ी का प्रदूषण जांच करा रहे हैं। ऐसे में आप भी इसका बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इसके माध्यम से हर माह आप 50 हजार रुपये कमा सकते हैं।

इतना करना होगा इन्वेस्ट

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको ज्यादा पूंजी की जरूरत नहीं है। मात्र दस हजार रुपये में आप इस बिजनेस की शुरूआत कर सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि बिजनेस शुरू करने के लिए केंद्र सरकार लोन भी दे रही हैं।

ऐसे में इसका लाभ आप उठा सकते हैं। दस हजार रुपये इन्वेस्ट कर आप प्रदूषण जांच केंद्र खोल सकते हैं। पहले ही दिन से आपकी कमाई शुरू हो जाएगी। एक अनुमान के मुताबिक प्रतिदिन आप एक से दो हजार रुपये कमा सकते हैं। मतलब महीने में आप 30 से 50 हजार रुपये कमा सकते हैं।

बिजनेस के लिए कैसे करें अप्लाई

  • सबसे पहले आपको क्षेत्रीय ट्रांसपोर्ट ऑफिसर (आरटीओ) से लाइसेंस लेना होगा।
  • प्रदूषण जांच केंद्र कहीं भी पेट्रोल पंप, ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के आसपास खोला जा सकता है।
  • आवेदन करने के साथ ही दस रुपये का एफिडेविट देना होगा।
  • एफिडेविट में टर्म एंड कंडीशन भी लिखनी होती है।
  • लोकल अथॉरिटी से No Objection Certificate लेना होगा।
  • Pollution Testing Center की हर राज्य में अलग-अलग फीस है।
  • कुछ राज्यों में ऑनलाइन अप्लाई की सुविधा है।
  • इन शर्तों का करना होगा पालन
  • प्रदूषण जांच केंद्र पहचान के रूप में पीले रंग के केबिन में ही खोला जा सकता है।
  • केबिन का साइज-लंबाई 2.5 मीटर, चौड़ाई 2 मीटर, ऊंचाई 2 मीटर।
  • प्रदूषण केंद्र सेंटर पर लाइसेंस नंबर लिखना जरूरी है।
  • देश का कोई भी नागरिक, फर्म, सोसाइटी और ट्रस्ट इसे खोल सकते हैं।

ये चीजें होना जरूरी

प्रदूषण केंद्र खोलने के लिए ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, मोटर मैकेनिक्स, ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिक्स, डीजल मैकेनिक्स या फिर इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट से प्रमाणित सार्टिफिकेट होना चाहिए।

Edited By: Jitendra Singh