जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : बिष्टुपुर थाना क्षेत्र डायगनल रोड के क्यू रोड चौक के पास गैराज लाइन में होटल समेत 10 गैराजों में मंगलवार की रात आठ बजे आग लग गई। इसकी चपेट में शीतला मंदिर भी आ गया। दो बाइक और एक स्कूटर जल गए।

गैराज में पेट्रोल-डीजल व गैस सिलेंडर होने के कारण आग तेजी से फैलने लगी और देखते ही देखते भयावह रूप धारण कर ली। आग से गैस वेल्डिंग सिलिंडर फट गए और जोरदार धमाके हुए। सिलिंडर के टुकड़े से टाइगर मोबाइल जवान सलमान और स्थानीय दो युवक घायल हो गए। ये लोग जल रहे गैराज से सामान निकालने वाले लोगों को हटाने का प्रयास कर रहे थे। धमाके से आस-पास के आवासीय इलाके में अफरा-तफरी मच गई। लोग घरों से बाहर निकल आए। इससे पहले कि आग और भयावह होती टाटा स्टील और अग्निशमन विभाग की तीन दमकलों ने डेढ़-दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बिष्टुपुर इंस्पेक्टर श्रीनिवास समेत अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। मंगलवार होने के कारण आस-पास की दुकानें बंद थी। इससे बड़ा हादसा होने से टल गया।

अवैध रूप से बना लिए गए हैं गैराज

क्यू रोड पर बड़ी-बड़ी बिल्डिंग और उनके नीचे दुकानों के आस-पास अवैध रूप से गैराज बना लिए गए हैं। आग कैसे लगी, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। लोग संभावना जता रहे हैं कि जेनरेटर चालू किए जाने के दौरान शार्ट सर्किट से आग लगी होगी। बिष्टुपुर इंस्पेक्टर ने बताया कि सभी दुकानें अवैध तरीके से चल रही हैं।

आवासीय क्षेत्र और दुकानों के सामने चलते हैं गैराज

क्यू रोड और इससे सटे इलाके में जुस्को के क्वार्टर और आवासीय इलाके हैं। आवास के नीचे ही मोटर पा‌र्ट्स की दुकानें हैं। इन दुकानों के सामने मुख्य सड़क और इससे सटी गलियों का अतिक्रमण कर गैराज खोल लिए गए है। इससे यातायात तो बाधित होती ही है साथ ही आस-पास रहने वाले लोगों को भी परेशानी होती है। गैराज में दोपहिया वाहनों की मरम्मत के साथ गैस वेल्डिंग का काम भी होता था। इन गैराजों में पेट्रोल-डीजल व गैस सिलेंडर होने के कारण हमेशा अनहोनी की आशंका बनी रहती है।

कुछ दिन पहले भी लगी थी आग

बिष्टुपुर डायगनल रोड फ्रेंड्स को-आपरेटिव सोसाइटी बिल्डिंग के सामने गैराज लाइन से सटे कचरे की ढेर में आग लग गई थी। इसमें तीन बाइकें जलकर राख हो गई थीं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस