जमशेदपुर, जासं। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की आहट से ही जो हिंसा शुरू हुई थी, उसने मतगणना के बाद विकराल रूप धारण कर लिया है। इसे लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगतप्रकाश नड्डा भी कोलकाता पहुंच गए हैं। उनके आह्वान पर देश भर के साथ जमशेदपुर में भाजपा कार्यकर्ता अपने-अपने घर से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

जमशेदपुर महानगर के जिलाध्यक्ष गुंजन यादव ने इसे लेकर मंगलवार को वर्चुअल मीटिंग की थी, जिसमें कहा गया था कि बुधवार को जिला के कार्यकर्ता व पदाधिकारी सुबह 11 से दोपहर एक बजे तक अपने घर पर धरना-प्रदर्शन करेंगे। कोरोना और इसकी वजह से लगे लॉकडाउन को देखते हुए सड़क पर विरोध प्रदर्शन नहीं किया जा रहा है। शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए जिला कमेटी के पदाधिकारी व मंच-मोर्चा के अध्यक्ष समेत प्रखंड व पंचायत स्तर तक के कार्यकर्ता अपने घर पर धरना दे रहे हैं। किसी-किसी ने अपने हाथ में पोस्टर-बैनर लेकर बंगाल में हो रही हिंसा की निंदा की है। लगभग हर कोई बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने या वहां सेना उतारने की मांग कर रहा है।

पीएम ने राज्यपाल से की बात

बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चेतावनी दी है कि जल्द हिंसा पर काबू पाएं, वरना परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राज्यपाल से बंगाल की स्थिति पर बात की है। हालांकि अभी तक ममता बनर्जी का इस संबंध में कोई बयान नहीं आया है। वह बुधवार को ही तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रही हैं। इसमें पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान सौरव गांगुली और बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष को भी आमंत्रित किया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप