जमशेदपुर (जासं) । भाजपा नेता अभय सिंह ने एक बार फिर झारखंड के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एमवी राव को पत्र लिखा है, जिसमें बिना नाम लिए विधायक सरयू राय पर निशाना साधा है। अभय ने मानगो स्थित डिमना बस्ती की मंगल कॉलोनी में करोड़ों रुपये की सरकारी व आदिवासी जमीन को एक अपराधी द्वारा बेचने की जानकारी देते हुए इसकी जांच एसआइटी से कराने का आग्रह किया है। अभय ने लिखा है कि उस अपराधी को एक बड़े नेता का संरक्षण प्राप्त था। जनप्रतिनिधियों के आका बनने के कारण स्थानीय थाना या पुलिसकर्मियों की हिम्मत नही होती थी। इसके कारण जमीन माफिया का हौसला बुलंद था। जिस व्यक्ति को जेल में होना चाहिए था, वह जनप्रतिनिधि के साथ घूमता था। इस नेता की वजह से पूरा मानगो अशांत हो गया।

उक्त नेता द्वारा जगह-जगह जमीन माफिया को प्रश्रय देने के कारण आए दिन सरकारी जमीन को हथियाने के लिए खून खराबा तक हुआ, पर स्थानीय जनप्रतिनिधि की रहस्यमय चुप्पी बनी रही। जमशेदपुर में यह धंधा बिना नेता या पुलिस की शह के नहीं फल-फूल सकता है। जब तक ऐसे सफेदपोशों का खुलासा नहीं होगा, तब तक शहर में अपराध रुक नहीं सकता। अभय ने डीजीपी से आग्रह किया है कि 20 बर्ष से मानगो के सरकारी जमीन की किसके संरक्षण में लूटपाट की गई।  इसका खुलासा एसआइटी ही कर सकती है। अभय सिंह ने पत्र की प्रतिलिपि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, नेता प्रतिपक्ष बाबूलाल मरांडी, डीआइजी कोल्हान राजीव रंजन सिंह, उपायुक्त सूरज कुमार, एसएसपी एम तमिल वाणन व सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट को भी प्रेषित की है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप