जमशेदपुर, जासं। जिस तरह से हमने छत्तीसगढ़ में भाजपा को उखाड़ कर फेंक दिया, उसी तरह झारखंड से भी उखाड़ फेकेंगे। ये बातें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को कहीं। बिष्टुपुर स्थित जी टाउन मैदान में कुड़मी सेना द्वारा आयोजित करम महोत्सव को संबोधित करते हुए बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के चुनाव में यहां से डॉ. रामेश्वर उरांव व अरुण उरांव ने हमें साथ दिया था। इन सभी के सहयोग से हम वहां 90 में 68 सीट जीते। हम यहां 80 में 68 सीट दिलाने आएंगे।

चुनाव के दौरान मैं और मेरी पूरी टीम यहां रहकर तन मन धन से कांग्रेस की लड़ाई में साथ देगी। इससे पहले बघेल ने कहा कि माताएं-बहनें रोटी बनाती हैं, तो तवे पर पलटती हैं कि नहीं। रोटी नहीं पलटेंगे, तो जल जाएगी। आपको परिवर्तन लाना है। जो सरकार आपके हिसाब से काम नहीं करे, उसे बदल देना चाहिए। लोकतंत्र में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ताकतवर नहीं होता है, जनता सबसे ताकतवर होती है। इस सरकार ने आपसे वादा किया था 'अच्छे दिन आएंगे', '15-15 लाख आपके खाते में आएंगे', क्या हुआ।

सब वादे झूठे निकले। आप अपनी शक्ति को पहचानिए, ऐसे लोगों को सबक सिखाइए। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. प्रदीप कुमार बलमुचू, पूर्व मंत्री बन्ना गुप्ता, अरुण उरांव, केशव महतो कमलेश, पूर्व सांसद सुमन महतो आदि उपस्थित थे। बघेल मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार जमशेदपुर आए थे।

हर पर्व में देते शासकीय छुट्टी

झारखंड और छत्तीसगढ़ में बहुत सी समानताएं हैं। हमारा गठन एक साथ हुआ था। हम पड़ोसी भी हैं। हमारी संस्कृति-परंपरा भी मिलती-जुलती है। आप यहां करम महोत्सव मनाते हैं, हम वहां करमा महोत्सव मनाते हैं। हम हरेली, तीज और विश्व आदिवासी दिवस भी मनाते हैं। इन सभी पर्वों में हम शासकीय छुट्टी देते हैं, ताकि यह लगे कि सरकार भी जनता की खुशियों के साथ है। मुझे पता चला है कि यहां ऐसा नहीं होता है। उन्होंने कुड़मी समाज से कहा कि आप अपनी भाषा, परंपरा, संस्कृति कभी मत छोड़ें, यही आपकी पहचान है।

धान की सबसे ज्यादा कीमत छग में मिलती है

भूपेश बघेल ने कहा कि झारखंड में धान की कितनी कीमत मिलती है, 1500 रुपये प्रति क्विंटल, केंद्र देती है 1700 रुपये। छत्तीसगढ़ में हम किसानों को 2500 रुपये प्रति क्विंटल देते हैं, जो देश में सबसे ज्यादा है। गन्ना की कीमत भी हम देश में सर्वाधिक देते हैं।

शहीद निर्मल महतो को दी श्रद्धांजलि

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रविवार की शाम करीब पांच बजे हेलीकॉप्टर से सोनारी स्थित जमशेदपुर एयरपोर्ट पर उतरे। वहां से वे सोनारी में ही कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व राज्यसभा सदस्य डॉ. प्रदीप बलमुचू के घर होते हुए शहीद निर्मल महतो की समाधि पर भी गए। वहां उन्होंने शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित कर परिसदन होते हुए बिष्टुपुर में करम महोत्सव में शामिल हुए। शाम करीब साढ़े छह बजे बघेल हेलीकॉप्टर से रायपुर के लिए रवाना हो गए।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप