जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। पूर्व मुख्‍यमंत्री व झारखंड विकास मोर्चा सुुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने मुख्‍यमंत्री रघुवर दास पर तंज कसते हुए कहा कि मुख्‍यमंत्री बनने के बाद वे सड़क मार्ग से रांची से जमशेदपुर क्‍यों नहीं आना-जाना कर रहे हैं। जबसे वे मुख्‍यमंत्री बने हेलीकॉप्‍टर से ही आना-जाना करते रहे। अब जबकि विधानसभा चुनाव करीब आया तो सड़क पर चलने की सुधि आई है और जोहार जन आशीर्वाद यात्रा कर रहे हैं।  

एक दिन पूर्व जनादेश यात्रा शुरू करनेवाले झाविमो सुप्रीमो सोमवार को बाबूलाल से मिलिए कार्यक्रम के तहत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्‍होंने कहा ि‍कि एनएच सहित सड़कों की बदहाली कैसी है यह जनता जान रही है। बीते साढ़े चार साल तक राज्‍य की सरकार को जनता की याद नहीं आई। विधानसभा चुनाव सिर पर आते ही जनता की याद आने लगी। जोहार जन आशीर्वाद यात्रा शुरू कर दी और सड़क पर मुख्‍यमंत्री चलने लगे। हालांकि इसका कोई फायदा होनेवाला नहीं।

ज्‍यादा समय कोल्‍हान के रहे सीएम, फिर भी दूर नहीं हुई बदहाली  

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि झारखंड अलग राज्‍य गठन के बाद सबसे लंबा कार्यकाल कोल्‍हान से मुख्‍यमंत्री बननेवालों का रहा। इसके बावजूद यह इलाका पूरी तरह बदहाली के गर्त में है। यही कारण है हमने जनादेश यात्रा की शुरुआत के लिए कोल्‍हान की धरती को चुना। बातचीत के दौरान झारखंड के प्रथम मुख्‍यमंत्री रहे बाबूलाल ने कहा कि जनादेश यात्रा शुरू करने के बाद मुख्‍यमंत्री आवास के नजदीकी गांव में गया। वहां आज भी अंधेरा छाया हुआ है। साढ़े चार साल तक सरकार ने जनता को ठगने का काम किया है। मालिकाना हक दिलाने के नाम पर चुनाव जीते रघुवर दास मालिकाना हक दिलाते रह गए और कार्यकाल पूरा हो गया। 

सभी सीटों पर उतारेंगे प्रत्‍याशी

झाविमो सुप्रीमो ने कहा कि आगामी विस चुनाव में सभी सीटों पर झाविमो अपने प्रत्‍याशी उतारेगी। किसी अन्‍य दल से गठबंधन के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि हमे गठबंधन से परहेज नहीं है। गठबंधन होने की स्थिति में भी सभी सीटों पर झाविमो प्रत्‍याशी चुनाव लड़ेंगे। इस दौरान बाबूलाल मरांडी ने झाविमो के नेताओं व कार्यक्रर्ताओं के साथ बैठक कर विचार-विमर्श किया। उनके साथ झाविमो के वरीय नेता अभय सिंह, बबुआ सिंह सहित पार्टी के अन्‍य मौजूद रहे।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस