जमशेदपुर, जासं। More evacuation in mid day meal मिड डे मील में राज्यांश मद में अधिक राशि की निकासी विभिन्न जिलों में हुई है। समीक्षा में यह बात सामने आने के बाद स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के प्रधान सचिव एपी सिंह ने सूद सहित राशि चालान के माध्यम से जमा कराने का निर्देश झारखंड मध्याह्न भोजन प्राधिकरण को दिया है। 

वर्ष 2014-15 से लेकर 2017-18 तक राज्यांश के मद में निर्धारित अनुपात से अधिक राशि की निकासी की गई है। उन्होंने इसकी भी जांच करने का आदेश दिया है कि वर्ष 2018-19 में भी तो अधिक राशि की निकासी नहीं हई है। इससे संबंधित पत्र सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी व जिला शिक्षा अधीक्षक शुक्रवार को प्राप्त हो गया है। पत्र में बताया गया है कि समीक्षा में यह बात सामने आई है कि स्कूलों में नामांकन के विरुद्ध मिड डे मील खानेवाले बच्चों की संख्या वर्ष 2014-15 से लगातार बढ़ रही है। प्रधान सचिव ने यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि इसी के अनुरूप राशि या खाद्यान्न का व्यय हो पा रहा है या नहीं। बच्चों के मिड डे मील खाने में वर्ष 2018-19 की अपेक्षा 2019-20 में प्रगति काफी कम है। उन्होंने इसके लिए दोषी जिला शिक्षा अधीक्षकों तथा प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारियों की पहचान कर उनके विरुद्ध कार्रवाई का आदेश दिया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस