सरायकेला/राजनगर, जेएनएन।  हाता-चाईबासा मुख्य मार्ग एनएच 220 पर राजनगर थाना क्षेत्र के तेलाई और केशरगाडिया के बीच दो कारों में जोरदार टक्कर हुई। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। जबकि पांच अन्य घायल हुए हैं। घटना बुधवार की रात करीब साढ़े आठ बजे की है। मृतकों में चाईबासा टुंगरी कलोनी निवासी इनकम टैक्स अधिवक्ता सुजीत कुमार बोस(50) एवं जमशेदपुर बारीडीह क्षेत्र के बागुनहातु निवासी ठेकेदार शंकर नामता(45) शामिल हैं।

जानकारी के अनुसार चाईबासा के इनकम टैक्स अधिवक्ता सुजीत कुमार बोस और दोस्त बांधपाड़ा निवासी संजय कुमार पाल दोनों सेंट्रो कार( जेएच 05 एसी 5883) से टाटा से चाईबासा वापस लौट रहे थे। इसी क्रम में चाईबासा की ओर से आ रही स्विप्ट कार(जेएच 05 बीए 3093) के साथ जोरदार भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों कारों के परखच्चे उड़ गए। स्विप्ट कार में कुल पांच लोग शामिल थे। घटना के बाद 108 एम्बुलेंस से सभी घायलों को राजनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। जहां डॉक्टरों ने स्वीप्ट कार में सवार बागुनहातु निवासी शंकर नामता(45) को मृत घोषित कर दिया। वहीं सेंट्रो कार के सुजीत कुमार बोस(50) की एमजीएम ले जाने के क्रम में मौत हो गई। कार में सवार अन्य लोगों को प्राथमिक इलाज के बाद रेफर कर दिया गया। जिसमें दो की हालत नाजुक बताई जाती है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। क्षतिग्रस्त दोनों कार को भी जब्त कर लिया गया।

पटमदा हाथीखेदा मंदिर से पूजा कर लौट रहे थे अधिवक्ता सुजीत और संजय पाल

मिली जानकारी के अनुसार अधिवक्ता सुजीत कुमार बोस जिनका चाईबासा में टैक्स कंसलटेंसी भी है। अपने दोस्त संजय पाल के साथ सेंट्रो कार से हाथीखेदा मंदिर गए थे। लौटने के क्रम में केसरगढ़िया और तेलाई के बीच उनकी कार सामने से आती स्विप्ट कार के साथ भिड़ंत हो गई। जिसमें उन्हें एवं उनके दोस्त को गंभीर चोटे आईं। उन्हें राजनगर स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। उनके मित्र चाईबासा के स्वीट इंडिया के मालिक संजय पाल की स्थिति ज्यादा खराब देखकर उनके परिवार वालों ने उन्हें तुरंत टीएमएच के लिए भेजा। जबकि अधिवक्ता सुजीत की स्थिति थोड़ी ठीक-ठाक देखकर देख कर उन्हें राजनगर में ही छोड़ दिया गया और बाद में स्थिति बिगड़ने लगी तो पुलिस ने उन्हें एमजीएम भिजवाया। इसी दरम्यान रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

कंट्रेक्टरी के काम से चार दोस्तों संग नोवामुंडी से लौट रहे थे शंकर नामता

जमशेदपुर बारीडीह क्षेत्र के बागुहातु निवासी शंकर नामता की भी इस दर्दनाक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। वे कंट्रेक्टरी के काम से अपने दोस्तों संग नोवामुंडी बुधवार को ही भोर सुबह को गए थे। उनके साथ बारीडीह के राजा दास(42), आदित्यपुर के शबिद हुसैन चौधरी(24), सोनारी के रूपेश कुमार वर्मा(26) तथा भोला प्रसाद(31) कार में सवार थे। इन सबको भी चोटें आईं हैं। परिजनों के मुताबिक ये सभी नेवामुंडी से दस दिन बाद लौटने वाले थे। परंतु वहां काम न होने के कारण उसी दिन शाम को वापस लौट रहे थे। शंकर नामता कंट्रेक्टरी का काम करते थे।

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस