जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)।  सर्किट हाउस एरिया  में जुबली पार्क से सैक्रेड हार्ट कन्वेंट स्कूल जाने वाली सड़क पर सोमवार की सुबह तकरीबन 8:30 बजे एक भारी-भरकम पेड़ गिर गया। इस हादसे में स्कूल जा रहे दो नौनिहाल और एक स्कूटी पर अपने बच्चे को बैठा कर स्कूल जा रही महिला भी बाल-बाल बची।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अगर पेड़ कुछ सेकेंड पहले गिरता तो बड़ा हादसा हो सकता था। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और जुस्को को फोन कर पेड़ हटाने को कहा। लोगों का कहना है कि जुबली पार्क और उसके आसपास बहुत से पेड़ कमजोर हो चुके हैं। यह पेड़ आने जाने वालों के लिए खतरा बने हुए हैं। इस इलाके में अक्सर पेड़ गिरने से लोग जख्मी होते रहे हैं।

पुराने पड़ चुके पेड़ बने खतरा

सर्किट हाउस इलाके में ज्‍यादातर पेड़ काफी पुराने पड़ चुके हैं। इन पेड़ों से हमेशा खतरा बना रहता है। इन पेड़ों की जमीन पर पकड़ कमजोर हो चुकी है। इस वजह से इनके गिरने का खतरा बना रहता है। मौके पर मौजूद लोगों ने भी बताया कि जुबिली पार्क और उसके आसपास बहुत से पेड़ कमजोर हो चुके हैं। यह पेड़ आने जाने वालों के लिए खतरा बने हुए हैं। इस इलाके में अक्सर पेड़ गिरने से लोग जख्मी होते रहे हैं। लोगों ने मांग की कि जुस्को कमजोर पेड़ों को हटाए और उनकी जगह नए पेड़ लगाए।

मधुमक्खियों के हमले में भी घायल हुए थे बच्‍चे

पिछले साल सेक्रेड हार्ट कान्‍वेंट स्‍कूल के बच्‍चे मधुमक्खियों के हमले में भी घायल हुए थे। दरअसल, स्‍कूल के आसपास पुराने विशाल पेड़ों पर मधुमक्खियों ने छत्‍ते बना रखे हैं। स्‍कूल के समय ही किसी ने इन छत्‍तों पर पत्‍थर फेंक दिया था। बड़ी संख्‍या में मधुमक्खियां हमलवार हो गईं। कई बच्‍चों को अपनी चपेट में ले लिया था। यहां तक कि कुछ बच्‍चों को अस्‍पताल में दाखिल कराना पड़ गया था। बाकी बच्‍चों को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेजा गया। 

 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस