जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। जादूगोड़ा की ओर से सुंदरनगर आ रहे तेज रफ्तार कार ने रैफ कैंप के निकट कदमडीह में एक सात साल के बच्चे अभिषेक सिंह की जान ले ली। दुर्घटना के बाद कार चालक भाग निकला जिसे बाद में पुलिस ने गिरफ़तार कर लिया है।

घटना शनिवार दोपहर तीन बजे की बतायी जा रही है। मृतक के पिता विधुत सिंह ने पुलिस को बताया कि उनका पुत्र सड़क पार कर रहा था। इस दौरान जादूगोड़ा की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार ने उनके पुत्र को अपनी चपेट में ले लिया। पुत्र को टक्‍कर मारने के बाद तेज गति से कार सड़क किनारेे बिजली की खंभे से जा टकराई। जानकारी मिलते ही गांव वालों की मदद से पुत्र अभिषेक सिंह को इलाज के लिए खासमहल सदर अस्पताल ले जाया गया।

अस्‍पताल में डाक्टरों ने जांच के बाद उनके पुत्र को मृत घोषित कर दिया। इस संबंध में विधुत की शिकायत पर कार चालक के खिलाफ सुंदरनगर थाना में मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाही की जा रही है। सुंदरनगर थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद ने बताया कि कार चालक आदित्यपुर का रहने वाला है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

जान मारने की नीयत से हमला करने के अभियुक्त को एक वर्ष की सजा

प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार प्रसाद की अदालत ने जान मारने की नीयत से हमला के अभियुक्त सोनारी खूंटाडीह निवासी बृजनंदन नायक को एक वर्ष की सजा सुनाई। चूंकि आरोपित मामले में 20 फरवरी 2018 से बंद था। मिली सजा से दोगुनी सजा वह जेल मे काट चुका था। इस कारण आरोपित को रिहा कर दिया गया।

उसके खिलाफ कुमुदनी नायक ने जान मारने की नीयत से हमला कर हाथ तोड़ देने और भाभी का गला दबाकर मारने के प्रयास का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपित के खिलाफ न्यायालय में भादवि की धारा 307 प्रमाणित नही हो पाया। मेडिकल रिपोर्ट न्यायालय में दाखिल की गई, लेकिन चिकित्सक का नाम अनुसंधान अधिकारी ने नहीं डायरी में नही लिखा था।

 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस